December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

मुकेश भट्ट की मनसे से अपील : ‘ऐ दिल है मुश्किल’ पर निशाना साधकर दिवाली नहीं बिगाड़ें

मनसे ने मल्टीप्लेक्सों में फिल्म दिखाये जाने पर उनमें तोड़फोड़ की परोक्ष धमकी भी दी थी।

Author मुंबई | October 18, 2016 20:46 pm
ऐ दिल है मुश्किल।

फिल्मकार मुकेश भट्ट ने मंगलवार को कहा कि करण जौहर की आने वाली फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ में पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान की केवल चार मिनट की भूमिका है और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना को फिल्म का समर्थन करना चाहिए। फिल्म एंड टेलीविजन प्रोड्यूसर्स गिल्ड आॅफ इंडिया के अध्यक्ष भट्ट ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘ फिल्म में 150 टेक्नीशियन हैं और केवल एक पाकिस्तानी कलाकार है जो चार मिनट के सीन में है। हमने अपना पैसा लगाया है। मनसे से अनुरोध है, उनसे पूरे फिल्म उद्योग की ओर से अपील है कि हम सब भाइयों को साथ आना चाहिए और भारतीयों के निवेश की सुरक्षा करनी चाहिए। हम दिवाली क्यों बिगाड़ें?’’

भट्ट ने कहा कि लोगों को जौहर की स्थिति को भी समझना चाहिए। राज ठाकरे की अगुवाई वाली मनसे ने कल कहा था कि वह जौहर की फिल्म के खिलाफ अपना प्रदर्शन तेज करेगी जिसमें एक पाकिस्तान कलाकार है। मनसे ने मल्टीप्लेक्सों में फिल्म दिखाये जाने पर उनमें तोड़फोड़ की परोक्ष धमकी भी दी थी। भट्ट ने कहा, ‘‘मनसे जो कहना चाहे कह सकती है। हम दोस्ती का हाथ बढ़ा रहे हैं, हमें शांति को स्वीकार करना होगा।फिल्मकार असहाय है। वह फंसा हुआ है। हमें उसके दर्द को समझना चाहिए।’’ गिल्ड ने कहा कि ‘ऐ दिल है मुश्किल’ और ‘रईस’ जैसी फिल्में, जिनमें पाकिस्तानी कलाकारों ने काम किया है, को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से उनके निर्माताओं को भारी नुकसान होगा।


भट्ट ने कहा कि पुलिस उनके साथ है और फिल्म 28 अक्तूबर को रिलीज होगी। उन्होंने कहा, ‘‘हम केवल सिनेमा मालिकों से गुहार लगा रहे हैं। हम फिल्म को नहीं बदल सकते, जिसे बना लिया गया है। इसे रिलीज होने देना चाहिए। भविष्य में हम सरकार के फैसले का पालन करेंगे।’’
भट्ट ने कहा, ‘‘अगर मनसे किसी संपत्ति को नुकसान पहुंचाती है तो उन संपत्तियों का बीमा है। मुझे विश्वास है कि 95 प्रतिशत सिनेमाघर हमारा साथ देंगे।’’सिनेमा मालिकों ने ऐलान किया है कि वे पाकिस्तानी कलाकारों के अभिनय वाली फिल्में नहीं दिखाएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर फिल्मकार अनुराग कश्यप के ट्वीट के बारे में पूछे जाने पर भट्ट ने कहा, ‘‘हम इन चीजों से प्रधानमंत्री को परेशान नहीं कर सकते। उन्हें और बड़े मुद्दों से निपटना है। हमें खुद ही इसे निपटाना चाहिए।’’ 64 वर्षीय भट्ट के मुताबिक फिल्म उद्योग को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘हमने जो अपराध नहीं किया है, उसकी सजा हमें नहीं दी जाए। मीडिया आज जिम्मेदार कारक है। कृपया शांति और सद्भाव फैलाइए। अगर हम लड़ेंगे तो यह आतंकवादियों की जीत होगी।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 18, 2016 8:46 pm

सबरंग