March 31, 2017

ताज़ा खबर

 

फवाद के बाद माहिरा ने तोड़ी उरी हमले पर अपनी चुप्पी, कहा मुझे खून खराबा और युद्ध से खुशी नहीं होती

जिंदगी चैनल पर आने वाले शो 'हमसफर' की वजह से वो पाकिस्तान में हर घर में पहचानी जाने लगी थी। बॉलीवुड में वो शाहरुख खान की फिल्म रईस में नजर आएंगी। ये फिल्म अगले साल रिलीज होगी।

माहिरा खान ने उरी हमले पर जारी चुप्पी को तोड़ा।

पाकिस्तानी एक्ट्रेस महिरा खान ने अपने साथी कलाकार फवाद खान और शफाकत अमानत अली के बाद उरी हमले पर जारी अपनी चुप्पी को तोड़ दिया है। इस हमले की वजह से दोनों देशों के बीच काफी तनाव भरा माहौल बना हुआ है। माहिरा ने किसी भी तरह की आतंकी हरकत की सख्त निंदा की और एक शांतिपूर्ण दुनिया के लिए दुआ की। एक फेसबुक पोस्ट में माहिरा ने लिखा कि पिछले पांच साल में मैं एक्ट्रेस के तौर पर काम कर रही हूं और मेरा मानना है कि मैंने यहां और बाकी जगह अपनी सर्वश्रेष्ठ क्षमता से पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करते हुए और अपने देश के सम्मान को अक्षुण्ण रखने के लिए अपनी सर्वश्रेष्ठ कोशिश की। उन्होंने लिखा कि एक पाकिस्तानी और दुनिया की नागरिक होने के नाते मैं आतंक के किसी कार्य की सख्त निंदा करती हूं चाहे वह किसी भी सरजमीं पर हो। आप सभी के संदेश, समर्थन और प्यार के लिए धन्यवाद।

MNS की धमकी के बाद फवाद खान भारत छोड़कर पाकिस्तान गए; अक्टूबर में ‘ऐ दिल है मुश्किल’ के प्रमोशन के लिए नहीं आएंगे वापिस

जिंदगी चैनल पर आने वाले शो ‘हमसफर’ की वजह से वो पाकिस्तान में हर घर में पहचानी जाने लगी थी। बॉलीवुड में वो शाहरुख खान की फिल्म ‘रईस’ में नजर आएंगी। ये फिल्म अगले साल रिलीज होगी। गौरतलब है कि 18 सितंबर को हुए उरी हमले के मद्देनजर भारत में एक तबका पाक कलाकारों पर पाबंदी लगाने की मांग कर रहा है। फवाद, माहिरा और दूसरे पाकिस्तानी कलाकारों को मनसे ने निशाना पर लेते हुए उन्हें 48 घंटों के अंदर भारत छोड़ने या जबरन निकाले जाने का अल्टीमेटम दिया था। हाल ही में फवाद खान और शफाकत अमानत अली ने आतंकी हमलों की निंदा करते हुए उम्मीद जताई थी कि दोनों देशों के बीच हालात सामान्य हो जाएंगे। पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान ने सोशल मीडिया पर एक शांतिपूर्ण दुनिया की कामना की थी।

Read Also: फवाद खान ने भारत-पाक तनाव पर तोड़ी चुप्‍पी, बोले- हम लोग ज्‍यादा शांतिप्रद दुनिया बना सकते हैं

बता दें कि मशहूर पाकिस्तानी गायक शफकत अमानत अली ने अपने साथी कलाकारों की चुप्पी पर उनका बचाव किया था। उन्होंने कहा था कि दुनिया के सभी कालाकार हमेशा से ही आतंकवाद के विरुद्ध हैं। भारत के बहुत से लोगों को लगता है कि पाकिस्तान के कलाकारों को उरी हमले की निंदा करनी चाहिए। वो हमारे लिए आखिर क्या सोचते हैं? ये सब तब शुरु हुआ जब पाकिस्तान के लिए वापस जाओ शब्द का इस्तेमाल हुआ। जिसकी वजह से वो खुद को बैकफुट पर देख रहे हैं। कोई भी कलाकार अपने देश के विरुद्ध कुछ नहीं सुन सकता इसी वजह से सभी कलाकार चुप हैं।

Read Also: कोई कलाकार अपने देश के विरुद्ध नहीं सुन सकता, इसी वजह से पाकिस्ताना कलाकार चुप हैं: शफकत अमानत अली

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 8, 2016 8:23 pm

  1. No Comments.

सबरंग