ताज़ा खबर
 

हिंदू धर्म का ‘अपमान’ करने के आरोप में इस फिल्म को सेंसर ने नहीं दिया सर्टिफिकेट, देखिए टीजर

मलयालम के मशहूर डायरेक्टर जयन चेरन का आरोप है कि सेंसर बोर्ड ने उनकी नई फिल्म को यह कहकर सर्टिफिकेट नहीं दिया कि वह हिंदू धर्म का अपना करती है।
Ka Bodyscapes फिल्म का एक चित्र।

मलयालम के मशहूर डायरेक्टर जयन चेरन का आरोप है कि सेंसर बोर्ड ने उनकी नई फिल्म को यह कहकर सर्टिफिकेट नहीं दिया कि वह हिंदू धर्म का अपना करती है। जयन की जिस फिल्म को सेंसर बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (CBFC) द्वारा पास ना करने का आरोप है उसका नाम Ka Bodyscapes है। यह फिल्म केरल के LGBT और नारीवादी आंदोलनों पर बनी है। जयन ने मंगलवार (27 जुलाई) को हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत के दौरान कहा, ‘सेंसर बोर्ड को फिल्म में दिखाए गए हनुमान के चित्र पर आपत्ति है। उन्हें पर्वत की जगह समलैंगिक किताबों को ले जाते दिखाया गया है।’

कई और चीजों पर नाराजगी: फिल्म में महिला को हस्तमैथुन करते दिखाना, गे के कुछ आपत्तिजनक सीन को लेकर भी आपत्ति है। Ka Bodyscapes नाम की यह फिल्म चार लोगों पर केंद्रित है। पहला एक गे पेंटर (हरीश), दूसरा उसका प्रेमी, एक गांव का लड़का और फैक्ट्री में काम करने वाली महिला कर्मचारी। फिल्म में #Happy to Bleed और Red Alert नाम के कैंपेन को भी दिखाया गया है। मासिक धर्म पर केंद्रित यह कैंपेन सोशल मीडिया पर काफी ट्रेंड में रहे। इसके साथ सबरीमाला मंदिर और उस फैक्ट्री के बॉस का भी जिक्र है जिसका मालिक मासिक धर्म वाली महिलओं से भेदभाव करता था।

Read also: जानिए, कैसे काम करता है सेंसर बोर्ड और क्या है फिल्मों को सर्टिफिकेट देने की पूरी प्रक्रिया

वहीं सेंसर बोर्ड के अधिकारी ने पूरी फिल्म को ही हिंदू विरोधी बताया है। उन्होंने कहा, ‘पूरी फिल्म ही हिंदू धर्म का अपमान करने के लिए बनी है। फिल्म में हिंदू भगवानों को खासतौर पर नीचा दिखाया गया है।’

देखिए Ka Bodyscapes फिल्म का टीजर- 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.