December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

फिर विवादों में ‘ऐ दिल है मुश्किल’, सिंगर रफी के बेटे ने लगाया पिता के अपमान का आरोप

यह नई कंट्रोवर्सी फिल्म के किसी एक्टर को लेकर नहीं बल्कि फिल्म की एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा के एक डायलॉग की वजह से शुरू हुई है।

करण जौहर की फिल्म ऐ दिल है मुश्किल को लेकर अभी पुराने विवाद ठंडे ही हुए थे कि अब फिल्म से जुड़ा एक और मामला सामने आ गया है। यह नई कंट्रोवर्सी फिल्म के किसी एक्टर को लेकर नहीं बल्कि फिल्म की एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा के एक डायलॉग की वजह से शुरू हुई है। दरअसल इस फिल्म में अनुष्का का एक डायलॉग है कि ‘मोहम्मद रफी गाते नहीं, रोते हैं।’ फिल्म में किरदार के बोले गए रफी परिवार काफी गुस्से में है। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए रफी के बेचे शाहिद रफी ने कहा, ‘इस डायलॉग की वजह से ना फिल्म को कोई फायदा हुआ है ना ही नुकसान… अगर ऐसा ही है तो फिर फिल्म में इसकी क्या आवश्यकता है. और ये डायलॉग लिते समय उन्हें ये एहसास भी नहीं हुआ कि वे किसके बारे में लिख रहे हैं।’

अपने पिता की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा, ‘मोहम्मद रफी इतने महान गायक है और मैं ऐसा इसलिए नहीं कह रहा कि क्योंकि वो मेरे पिता है. उनकी मौत के 36 साल बाद भी उनकी फैन फॉलोइंग इतनी है कि जितनी आज के बड़े सिंगर्स की भी नहीं है।’

शाहिद ने आगे कहा, ‘इस इंडस्ट्री में उनके बारे में कोई भी बुरा नहीं बोलता है। ये उनका अपमान है। ये बेवकूफी भरा है। जिसने भी ये डायलॉग लिखा है वो बेवकूफ है। मेरे पिता ने शम्मी कपूर, राजेंद्र कुमार, जोय मुखर्जी, विश्वजीत सिंह के लिए गाने गाए हैं। लव सॉन्ग से लेकर कव्वाली तक हर तरह के गीत उन्होंने गाए। इस फिल्म में जो कुछ भी कहा गया है वो हास्यास्पद है।’ शाहिद इस बात पर हैरान हैं कि करण इस तरह का डायलॉग फिल्म में कैसे ले सकते हैं। शाहिद ने कहा, ‘ये देखने के बाद मुझे संदेह है कि करण को ये पता भी है कि वो क्या कर रहे हैं। वो मेरे पिता की बेइज्जती कर रहे हैं। मैंने करण से ये उम्मीद नहीं की थी। जब उनके पिता यश जौहर ने 1980 में फिल्म दोस्ताना बनाई थी तो मेरे पिता ने उनके लिए मेरे दोस्त किस्सा ये क्या हो गया, सुना है कि तु बेवफा हो गया गाना गाया था। मुझे नहीं पता कि ये लाइन उन्होंने फिल्म में क्यों ली। शायद शोहरत करण के सिर पर चढ़ गई है। जब शोहरत ज्यादा चढ़ जाती है तो लोग मुंह पर तारीफ करते हैं और पीठ पीछे थू-थू करते हैं।’

Movie Review- प्यार, दोस्ती, रोमांस और एंटरटेनमेंट का एक बेहतरीन पैकेज है ‘ऐ दिल है मुश्किल’

शाहिद का कहना है कि वो इसे लेकर सीबीएफसी के चेयरमैन पंकज निहलानी से भी मिलेंगे। उन्होंने कहा है कि उन्हें इस डायलॉग को लेकर फैंस ने काफी संदेश भेजे हैं और एक्शन लेने की मांग की है। शाहिद ने कहा, ‘मैं निहलानी जी से बात करूंगा। मैं उन्हें अच्छे से जानता हूं। मैं देखूंगा कि वो मुझे एक्शन लेने के लिए क्या सलाह देते हैं। इस डायलॉग को सेंसर करना चाहिए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 1, 2016 4:58 pm

सबरंग