ताज़ा खबर
 

पितृसत्‍तात्‍मक सोच पर कंगना रनौत का हमला- बोल्‍ड, कामयाब महिलाओं को कोई मजबूत आदमी ही पसंद कर सकता है

एक्‍ट्रेस कंगना रनौत ने पितृसत्‍तात्‍मक व्‍यवहार पर हमला बोलते हुए कहा कि क्‍या दबंग महिलाएं शारीरिक संबंध बनाने लायक नहीं होती।
एक्‍ट्रेस कंगना रनौत ने पितृसत्‍तात्‍मक व्‍यवहार पर हमला बोलते हुए कहा कि क्‍या दबंग महिलाएं शारीरिक संबंध बनाने लायक नहीं होती।

एक्‍ट्रेस कंगना रनौत ने पितृसत्‍तात्‍मक व्‍यवहार पर हमला बोलते हुए कहा कि क्‍या दबंग महिलाएं शारीरिक संबंध बनाने लायक नहीं होती। उन्‍होंने कहा कि कुछ पुरुषों के लिए उस लड़की को संभालना मुश्किल होता है जो लड़की अपने दिमाग की बात कहती है। कंगना ने ऋतिक रोशन के साथ पिछले साल कथित रिलेशन को लेकर हुई तकरार के संबंध में यह बयान दिया। अंग्रेजी अखबार मिड डे को दिए इंटरव्यू में कंगना ने कहा, ”साहसी, दृढ़ निश्‍चयी महिलाएं जिन्‍होंने अपने जीवन में कुछ हासिल किया है उन्‍हें केवल वे ही लोग पसंद करते हैं जो मजबूत और निश्‍चित होते हैं। अच्‍छी बात है कि यह सब पर लागू नहीं होती। साहस दुर्लभ और प्रिय चीज है।” गौरतलब है कि ऋतिक और कंगना के बीच लीक ईमेल्‍स को लेकर काफी आरोप-प्रत्‍यारोप हुए थे। मामला पुलिस तक चला गया था।

उन्‍होंने आगे कहा, ”जो कुछ मैं हूं उसके लिए मुझे कोर्ट में घसीटा गया। मुझे एक बंद दरवाजों के पीछे एक रिश्‍ते में बांध दिया गया। मैंने पारदर्शी और सबके सामने लड़ाई लड़ी। लोग बकवास करते हैं लेकिन उन्‍हें नहीं पता कि मैंने अपनी जिंदगी कैसे जी है। मैंने कलंकित महसूस किया। मैं जागती थी तो घिनौने मेल्‍स की खबरें मिली थीं जो मैंने नहीं लिखे। मैं न्‍यूयॉर्क फिल्‍म एकेडमी से सर्टि‍फाइड स्‍क्रीनराइटर हूं।। मैं इस तरह की बेकार चीजें नहीं लिखतीं।” कंगना ने बताया कि उन्‍हें इस मामले से दुख हुआ क्‍योंकि वे एक खूबसूरत रिश्‍ते में थी लेकिन जिस तरह से खत्‍म हुआ वो चोट पहुंचाता है।

कंगना ने पिछले दिनों भी इस मामले में बयान दिया था। उन्होंने कहा था, ”मेरे अंदर कुछ था जो सभी विवादों की जड़ बना वो मुझसे इस बारे में कहने के लिए बोल रहा है। पहाड़ों में एक युवा लड़की रहती थी। जो बहुत बहादुर, अव्यावहारिक और अड़ियल थी। वो लड़की एक दिन जब चल रही थी तो उसने एक आदमी की फोटो देखी और उसके प्यार में पड़ गई। उस आदमी ने लड़की को किस करके आई लव यू कहा। यह दुनिया असली दुनिया और भविष्य की होने वाली दुनिया के बीच एक ट्रैप बन गया। जिन लेटर्स को मैंने लिखा था उन्हें निर्दयी तरीके से दुनिया के सामने एक्सपोज कर दिया गया। मैंने एक इंसान के तौर पर क्या महसूस किया होगा क्योंकि अपने लवर के लिए लिखे गए शब्द बहुत संवेदनशील होते हैं। आप खुद को या खुद की आत्मा के एक हिस्से को उसमें एक्सपोज करते हैं, दुनिया के सामने नहीं बल्कि एक शख्स के सामने। मुझे लगा जैसे मैं पूरी दुनिया के सामने नेकेड हो गई हूं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग