December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

DDLJ के 20 साल पूरे होने की पार्टी में न बुलाए जाने पर काजोल ने तोड़ी चुप्पी

काजोल ने कहा, हर किसी नजरिया होता है, हम किसी के नजरिए पर असहमत होने पर सहमत हो सकते हैं और ऐसा नहीं है कि इससे फिल्म में मेरी अहमियत कम हो जाएगी।"

काजोल और शाहरुख खान की “दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे” भारतीय सिनेमा इतिहास की सबसे सफल फिल्मों में गिनी जाती है।

आदित्य चोपड़ा की पहली फिल्म “दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे” 1995 में जब रिलीज हुई थी तो फिल्म से जुड़े किसी भी शख्श ने शायद ही उम्मीद की होगी ये फिल्म भारतीय इतिहास की सबसे सफल फिल्मों में गिनी जाएगी। इस फिल्म ने एक सिनेमाघर में सबसे ज्यादा समय तक लगातार चलने का शोले का रिकॉर्ड तोड़ दिया। फिल्म में मुख्य किरदार निभाने वाले काजोल और शाहरुख खान ने इसके बाद एक साथ कई सफल फिल्में दीं और उन्हें हिंदी सिनेमा की सर्वाधिक सफल जोड़ियों में गिना जाता है। रिलीज के बाद साल दर साल इस फिल्म की कहानी में उपलब्धियों की नए-नए अध्याय जुड़ते गए। लेकिन इसकी सफलता की कहानी में पहला दुखद मोड़ तब आया जब फिल्म के 20 साल पूरे होने पर पिछले साल दी गई आलीशान पार्टी में फिल्म निर्माता-निर्देशक आदित्य चोपड़ा ने फिल्म की मुख्य नायिका काजोल को निमंत्रित नहीं किया। जाहिर है इस बात से काजोल को बहुत तकलीफ पहुंची होगी लेकिन उन्होंने इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी अब जाकर तोड़ी है।

वीडियो: शाहिद कपूर ने बेटी मिशा पर दिया बयान- 

टीवी चैनल इंडिया टूडे को दिए इंटरव्यू में काजोल ने परोक्ष रूप से स्वीकार किया कि उन्हें डीडीएलजे के 20 साल पूरे होने की पार्टी में नहीं बुलाया गया था। इस पार्टी में आदित्य चोपड़ा द्वारा नहीं बुलाए जाने के सवाल पर काजोल ने कहा, “मैं ये नहीं कहूंगी कि मेरा दिल दुखा, या मैं निराश हुई…मुझे लगता है कि मैं इससे ज्यादा परिपक्व हूं। मुझे लगता है कि उसने जो फैसला लिया वो उसके लिए शायद सही रहा होगा, मैं उस फैसले से सहमत नहीं थी लेकिन कोई बात नहीं। ये काफी पहले की बात है…मैं ठीक हूं और सचमुच इससे मुझे दिक्कत नहीं है। हर किसी का नजरिया होता है, हम किसी के नजरिए पर असहमत होने पर सहमत हो सकते हैं और ऐसा नहीं है कि इससे फिल्म में मेरी अहमियत कम हो जाएगी।”

Read Also: अजय देवगन इस शर्त पर पत्नी काजोल के साथ फिल्म में काम करने को हैं तैयार

इंटरव्यू में काजोल के पति और अभिनेता अजय देवगन भी उनके साथ था।  कभी काजोल के करीबी दोस्त रहे आदित्य चोपड़ा, करण जौहर और शाहरुख खान से अब उनकी नहीं पटती। इंटरव्यू में जब उनसे पूछा गया कि दोस्तों को खोना कैसा लगता है तो काजोर यह कहकर सवाल टाल गईं कि “बेहतर होगा कि हम निजी सवाल में न जाएं।” माना जाता है कि काजोल और आदित्य चोपड़ा के बीच अनबन की वजह देवगन और चोपड़ा के बीच हुए मतभेद हैं। साल 2012 में दिवाली पर अजय देवगन की “सन ऑफ सरदार” और आदित्य के पिता यश चोपड़ा की फिल्म “जब तक है जान” एक रिलीज हुई थीं। देवगन और चोपड़ा के बीच फिल्म रिलीज लेकर अनबन हो गई थी। तब से आदित्य चोपड़ा और काजोल के बीच दूरी बरकरार है। हालांकि शाहरुख खान के साथ पिछले साल काजोल ने रोहित शेट्टी की फिल्म “दिलवाले” में काम किया था। इस फिल्म को काजोल और शाहरुख के बीच सुलह का संकेत माना गया।

Read Also: रनवीर सिंह ने शेयर की बाथरूम वीडियो, शावर लेते हुए काजोल स्टाइल में किया डांस

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 25, 2016 4:17 pm

सबरंग