ताज़ा खबर
 

जॉली एलएलबी 2 बॉक्स ऑफिस कलेक्शन : अक्षय कुमार और हुमा कुरैशी की फिल्म ने पहले ही दिन कमाए 13.20 करोड़ रुपए

2013 में रिलीज हुई अरशद वारसी स्टारर फिल्म जॉली एलएलबी की सीक्वल जॉली एलएलबी-2 सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। इस फिल्म में बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार लीड रोल में हैं और हुमा कुरैशी फीमेल लीड रोल में हैं।
Author नई दिल्ली | February 11, 2017 13:30 pm
जॉलीएलएलबी-2 के गाने में बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार।

2013 में रिलीज हुई अरशद वारसी स्टारर फिल्म जॉली एलएलबी की सीक्वल जॉली एलएलबी-2 सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। इस फिल्म में बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार लीड रोल में हैं और हुमा कुरैशी फीमेल लीड रोल में हैं। जज का किरदार पिछली फिल्म की तरह ही एक्टर सौरभ शुक्ला ने ही निभाया है। जब आमिर खान स्टारर फिल्म दंगल और शाहरुख खान स्टारर रईस पहले ही सिनेमाघरों में काबिज है ऐसे में इस बार पर एनालिस्ट्स को थोड़ा शक था कि जॉली एलएलबी-2 कुछ खास खेल दिखा पाएगी या नहीं। लेकिन ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श के आंकड़ों की मानें तो फिल्म ने पहले ही दिन 13.20 करोड़ की कमाई की है। पहले दिन के हिसाब से यह एक अच्छा आंकड़ा है, और शनिवार और रविवार को बिजनेस में उछाल आने की उम्मीद है।

तरण के ट्वीट के मुताबिक फिल्म की माउथ टू माउथ पब्लिसिटी काफी अच्छी हो रही है और यह फिल्म को अच्छा बिजनेस करने में मदद कर सकती है। पहली फिल्म में जगदीश त्यागी का किरदार अरशद वारसी ने निभाया था। पूरी फिल्म उनके कंधों पर थी। उनका जज सुंदरलाल त्रिपाठी (सौरभ शुक्ला) के साथ दिखाया गया फ्रेंडली हंसी मजाक अभी तक हम सभी की यादों में ताजा है। इस बार जब हम बदले हुए जगदीश मिश्रा उर्फ जॉली यानी अक्षय कुमार से मिले तो पहला सवाल मन में आया क्या सुभाष कपूर को अक्षय में एक नया वारिस दिखाई दिया? अक्षय जल्द ही सभी को अपने जॉली सेल्फ से मिलवाते हैं। यह एक ऐसा किरदार है जो चालाक तो है लेकिन कंन्फ्यूज भी है।

इस बार भी जज के नाम को त्रिपाठी ही रखा गया है। पहली फिल्म की बजाए इस फिल्म में सौरभ शुक्ला का किरदार थोड़ा अलग है। उनके कलीग माथुर (अन्नू कपूर) काम में जॉली के लिए और परेशानियां बढ़ाते हैं। हालांकि चीजें उस समय एकदम अलग टर्न ले लेती हैं जब जॉली कोर्ट में इकबाल कासिम (मानव कौल) के खिलाफ खड़ा हो जाता है। इसके बाद फिल्म पूरी तरह से बदल जाती है और भारतीय न्याय प्रक्रिया पर कमेंट्री की तरह नजर आती है। लेकिन जॉली के लिए यह केवल शुरुआत होती है। वो भ्रष्ट और ताकतवर लोगों के खिलाफ लड़ता है और जो उसे अनजानी जगहों और खतरनाक लोगों के बीच ले जाते हैं। फिल्म की रीढ़ अक्षय कुमार की कॉमिक टाइमिंग है। उनके डायलॉग, एक्टिंग, थिएट्रिक्स सब काफी अच्छे हैं। लेकिन अरशद वारसी की तरह एक दमदार स्पीच उन्होंने नहीं दी है। लेकिन फिर भी फिल्म दर्शकों को आखिर तक बांधे रखने में कामयाब होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग