December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

जॉन अब्राहम ने अवॉर्ड सेरिमनीज की ‘सर्कस’ से की तुलना, बताया टीआरपी पर आधारित

"मैं अब भी बहुत बुनियादी और सादा हूं। मेरे को-स्टार्स अब भी कहते हैं कि मुझे जूते पहनने चाहिए, जबकि मैं ज्यादातर वक्त चप्पलों और टीशर्ट्स में घूमता रहता हूं।"

फोर्स-2 स्टार जॉन अब्राहम।

13 साल पहले फिल्म ‘जिस्म’ से 2003 में शुरू हुई अपनी बॉलीवुड जर्नी के बारे में बात करते हुए बॉलीवुड स्टार जॉन अब्राहम ने अपनी निजी जिंदगी से जुड़े कई राज खोले। जॉन ने अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में कहा- मैं अब भी बहुत बुनियादी और सादा हूं। मेरे को-स्टार्स अब भी कहते हैं कि मुझे जूते पहनने चाहिए, जबकि मैं ज्यादातर वक्त चप्पलों और टीशर्ट्स में घूमता रहता हूं। आज मैं थोड़ा ढंग के कपड़े पहने हुए हूं, क्योंकि मुझे बताया गया कि यह सब टीवी पर टेलीकास्ट किया जाएगा।

जॉन ने कहा- मैं वह बनने की कोशिश कभी नहीं करता जो मैं हूं ही नहीं, और मिडिल क्लाज वैल्यूज मेरा प्लस प्वॉइंट हैं। मेरे पिता बस से सफर करते हैं और मेरी मां ऑटो से, और मैं भी वही करता हूं। हमें पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करना चाहिए। क्योंकि जॉन ने कभी भी आमिर खान की तरह किसी अवॉर्ड सेरिमनीज में हिस्सा नहीं लिया है। इस बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा- हां, मैं अवार्ड सेरिमनी में नहीं जाता हूं, शादियों में नहीं नाचता हूं, और चमक-दमक से दूर रहता हूं।

उन्होंने कहा कि यह सेरिमनी टीआरपी बेस्ड होते हैं। अपने सहकर्मियों को पूरा सम्मान देते हुए मैं ऐसे इवेंट्स को सर्कस की तरह मानता हूं। मैं नहीं जानता कौन इसके लिए लायक है। जो परफॉर्म करता है उसे अवॉर्ड मिल जाता है। मुझे एक बार बताया गया कि मैं अवार्ड जीतने वाला हूं, लेकिन यदि मैं परफॉर्म नहीं करूंगा तो वे इसे किसी और को दे देंगे।

वीडियो- सलमान खान और गोविंदा एक बार फिर बनेंगे ‘पार्टनर’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 13, 2016 7:45 pm

सबरंग