ताज़ा खबर
 

शादीशुदा होने पर भी शबाना आजमी की ओर आकर्षित हो रहे थे जावेद अख्तर, फिर कैसे किया निकाह?

कहानी की शुरुआत फिल्म सीता-गीता के सेट से हुई थी। वहीं पर वह हनी से मिले थे। एक सवाल-जवाब की प्रतियोगिता...

जावेद अख्तर के लिखे गाने और कविताएं जितनी बेहतरीन हैं। उतनी ही हसीन उनके इश्क और शादी की कहानी है। जावेद अख्तर आज बीवी शबाना आजमी के साथ हंसी-खुशी रह रहे हैं। लेकिन यह इतना आसान नहीं था। उन्हें शबाना को अपना बनाने के लिए किसी को बेगाना करना पड़ा था। वह कोई और नहीं उनकी पहली पत्नी थीं। मशहूर स्क्रिप्ट राइटर और गीतकार जावेद अख्तर की पहली पत्नी हनी ईरानी थीं। साल 1972 में दोनों की शादी हुई थी। लेकिन शबाना आजमी के कारण यह रिश्ता ज्यादा दिन तक नहीं चल पाया।

कहानी की शुरुआत फिल्म सीता-गीता के सेट से हुई थी। वहीं पर वह हनी से मिले थे। एक सवाल-जवाब की प्रतियोगिता में दोनों ने शादी करने का मन बना लिया था। 21 मार्च 1972 को शादी हुई। तब हनी 17 साल की थीं। बाल कलाकार के तौर पर करियर की शुरुआत करने वाली हनीं बाद में स्क्रिप्ट राइटर बन गई थीं।

इधर, शबाना भी उन दिनों की यंग एक्ट्रेस थीं। वह कैफी आजमी की बेटी थीं। जावेद उनके पास जाते थे। वहां उनके परिवार के साथ वक्त बिताते थे। यह वही दौर था, जब जावेद शबाना की ओर आकर्षित हो रहे थे। शबाना भी मन ही मन उन्हें चाहने लगी थीं। वे कुछ इस तरह काफी करीब आ गए थे।

दोनों ने शादी का मन बना लिया था, मगर जावेद का शादीशुदा होना बीच में खलल डाल रहा था। शबाना की मां को यह बात बिल्कुल भी पसंद नहीं थी। इधर, उनकी पहली पत्नी को जब इस बारे में पता लगा, तो वह हैरान रह गईं। यही कारण था कि दोनों में इस पर खट-पट होने लगी थी।

पानी सिर से ऊपर हुआ, तो 1978 में बच्चों को बगैर बताए अलग होने का फैसला कर लिया। चूंकि दोनों का तलाक नहीं हुआ था, लिहाजा शबाना से उनकी शादी नहीं हो पा रही थी। सो 1984 में उन्होंने शबाना के लिए उन्हें तलाक दिया और फिर शबाना से शादी कर ली।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.