ताज़ा खबर
 

डिप्रेशन के शिकार रह चुके हैं ऋतिक रोशन, शेयर की अपनी तकलीफें

बता दें कि दीपिका पादुकोण ने 2014 में एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत डिप्रेशन के बारे में बताा था। उन्होंने बताया कि था साल 2014 की शुरुआत में एक सुबह वह उठीं तो बहुत खालीपन का एहसास हुआ था।

बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ने एक बार अपने डिप्रेशन के दौर की कहानी सुनाई थी। उन्होंने बताया था कि किस तरह वह इस खतरनाक चीज से उबर कर बाहर आई थीं। अब कुछ इसी तरह की कहानी एक और स्टार ने सुनाई है। इस बार ऋतिक रोशन ने अपनी लाइफ से जुड़े हिस्से को सबके साथ शेयर किया। उनका कहना है कि उन्होंने जिंदगी में कई उतार-चढ़ावों का सामना किया। उन्होंने कहा कि डिप्रेशन ऐसी चीज नहीं है जिसे किसी गलत चीज की तरह खुद से जोड़ कर देखा जाए। ऋतिक ने कहा कि मेंटल हेल्थ के बारे में भी नॉर्मल तरह से बात करनी चाहिए। इन्हें लाइलाज बीमारी मानना गलत है।

ऋतिक ने कहा ‘मैंने कई उतार चढ़ाव देखे हैं। मैंने डिप्रेशन को एक्सपीरियंस किया है। मैंने शक को एक्सपीरियंस किया है, जैसे कि हम सभी करते हैं। ये बहुत साधारण सी बात है। हम जब भी इस पर बोलें, इसे साधारण तरीके से ही लें।

ऋतिक ने बताया ‘मैंने अपनी पर्सनल लाइफ में कई मुद्दों का सामना किया। ऐसा हम सभी के साथ होता है, ऊपर जाना जरूरी है तो नीचे आना भी उतना ही अहम है। ये दोनों ही आपकी शख्सियत को बनाने के लिए जरूरी हैं। जब आप नीचे जाते हैं तो आपके विचारों का क्लियर होना जरूरी होता है। आपका दिमाग आप पर हावी हो जाता है। अनचाहे खयाल आपके दिमाग पर छा जाते हैं। उस वक्त आपको दूसरे या तीसरे इंसान की जरूरत होती है जो आपको बता सके कि आपके साथ क्या हो रहा है।’

बता दें कि दीपिका पादुकोण ने 2014 में एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत डिप्रेशन के बारे में बताा था। उन्होंने बताया कि था साल 2014 की शुरुआत में एक सुबह वह उठीं तो बहुत खालीपन का एहसास हुआ। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगा यह स्ट्रेस था, मैंने काम से ध्यान हटाना शुरू किया और ज्यादा समय लोगों से मिलने-जुलने में बिताना शुरू किया। इससे मुझे कुछ समय के लिए फायदा भी मिला। लेकिन समस्या पूरी तरह दूर नहीं हुई। मैं ठीक से ध्यान नहीं लगा पा रही थीं और कभी-कभी रोने लगती थी।’

दीपिका ने बताया कि जिस वक्त वह डिप्रेशन से गुजर रही थीं, उस वक्त ‘हैपी न्यू ईयर’ की शूटिंग चल रही थी। उन्होंने साइकैट्रिस्ट से भी बात की थी। दीपिका ने बताया, ‘उस टाइम सुबह जल्दी उठना होता था, क्योंकि ‘हैपी न्यू ईयर’ का क्लाइमेक्स शूट हो रहा था। हारकर मैंने एना आंटी से बात की। वह मुंबई से फ्लाइट लेकर बेंगलुरु आईं और मैंने दिल का हाल उन्हें सुनाया।’

दीपिका की बात सुनने के बाद उनकी आंटी ने कहा कि वह डिप्रेशन की शिकार हो गई हैं। दीपिका ने बताया था कि इसके बाद उन्होंने मेडिटेशन करना शुरू किया था। जिससे उन्हें काफी आराम मिला। दीपिका ने ‘हैपी न्यू ईयर’ की शूटिंग पूरी होने के बाद दो महीने का ब्रेक लिया और बेंगलुरु में अपने परिवार के साथ समय बिताया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.