June 23, 2017

ताज़ा खबर
 

गलत साबित हुए नकली मां-बाप, केस जीत गए धनुष

इस मामले को सुलझाने के लिए कोर्ट ने धनुष का डीएनए टेस्ट भी करवाया था। इसके बाद धनुष के बर्थमार्क भी टेस्ट किए गए थे।

फिल्म स्टार धनुष।

साउथ इंडस्ट्री के मशहूर एक्टर और बॉलीवुड के ‘रांझणा’ ने पेटर्निटी केस जीत लिया है। बता दें कि एक बुजुर्ग दंपत्ति ने धनुष को अपना बेटा बताते हुए भत्ते की मांग की थी। वह चाहते थे कि धनुष उन्हें हर महीने 65 हजार रुपए गुजारे भत्ते के तौर पर दें। अब कोर्ट ने इस मामले में बुजुर्ग दंपत्ति के दावे को खारिज करते हुए धनुष के हक में फैसला सुनाया है।

इस मामले को सुलझाने के लिए कोर्ट ने धनुष का डीएनए टेस्ट भी करवाया था। इसके बाद धनुष के बर्थमार्क भी टेस्ट किए गए थे। बता दें कि मदुरई के एक जोड़े ने याचिका दाखिल की थी उनका कहना है कि धनुष उनके जैविक पुत्र हैं। 60 साल के काथीरेसन और उनकी 55 साल की पत्नी मीनाक्षी ने यह दावा किया है। उनका कहना था कि धनुष ने उन्हें किसी तरह का भरण-पोषण भत्ता देने से मना कर दिया है। जोड़े का कहना था कि हमने उसका नाम कलाईसेल्वन रखा था और मेलूर के एक स्कूल में उसका दाखिला करवाया था। कोर्ट ने

धनुष के माता-पिता होने का दावा कर रहे दंपत्ति की मांग पर धनुष से उनके शरीर पर आईडेन्टिफिकेशन मार्क्स दिखाने का आदेश दिया था। इसके बाद धनुष ने बर्थमार्क की जांच भी करवाई थी। दावा करने वाले जोड़े ने भी सबूत के तौर पर जन्म प्रमाण पत्र और एक्टर के बचपन की कुछ फोटोज दिखाई हैं।

जोड़े ने कहा कि हमने कई बार धनुष से मिलने की कोशिश की लेकिन उन्हें कभी मिलने नहीं दिया गया। इनका दावा था कि एक्टर ने सिनेमा इंडस्ट्री में जाने से पहले अपना नाम बदल लिया। उसने पढ़ाई बीच में ही छोड़कर अपना नाम धनुष के राजा रख लिया और सिनेमा जगत में चला गया। लेकिन अब सारे दावे गलत साबित हो चुके हैं। अब अगर आप धनुष के असली माता-पिता के बारे में नहीं जानते हैं तो बता दें कि धनुष का असली नाम वेंकटेश प्रभु है। वह तमिल फिल्म प्रोड्यूसर कस्तूरी राजा के बेटे हैं। उनकी मां का नाम विजयलक्ष्मी है।

सलमान खान ने जारी किया 'ट्यूबलाइट' का पहला पोस्टर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on April 21, 2017 11:54 am

  1. No Comments.
सबरंग