ताज़ा खबर
 

कांग्रेस ने किया इंदू सरकार का विरोध तो राहुल गांधी से बोले मधुर भंडारकर, क्या मुझे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता नहीं?

कुछ लोगों ने मधुर भंडारकर पर ये भी आरोप लगाया गया है कि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थक हैं, इसलिए विपक्ष को जवाब देने के मकसद से फिल्म को भाजपा का समर्थन मिल रहा है।
फिल्म इंदू सरकार तत्कालीन इंदिरा गांधी सरकार द्वारा लगाई इमरजेंसी पर आधारित है।

पुणे के बाद अब निर्देशक मधुर भंडारकर को अपनी फिल्म से जुड़ी अगली प्रेस कॉन्फ्रेंस को नागपुर में भी रद्द करना पड़ा है। इससे पहले उन्हें कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरोध के चलते पुणे में फिल्म ‘इंदु सरकार’ से जुड़ी प्रेस कॉन्फ्रेंस रद्द करनी पड़ी थी। बता दें कि नागपुर के होटल पोर्टो में यह प्रेस कॉन्फ्रेंस होने वाली थी मगर प्रेस कॉन्फ्रेंस से ठीक पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। बाद में विवाद को बढ़ता देख प्रेस कॉन्फ्रेंस को रद्द करने का फैसला लिया गया। मामले में मधुर भंडाकर ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को ट्वीट कर लिखा, ‘प्रिय राहुल गांधी पुणे के बाद आज मुझे नागपुर की प्रेस कॉन्फ्रेंस को भी रद्द करना पड़ा है। क्या आप इसे गुंडागर्दी नहीं कहेंगे? क्या मुझे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता नहीं है?’ ये ट्वीट उन्होंने रविवार (16 जुलाई, 2017) को किया है। खबर के अनुसार फिल्म इंदू सरकार तत्कालीन इंदिरा गांधी सरकार द्वारा लगाई इमरजेंसी पर आधारित है। जिसमें दूसरे किरदार के रूप में इंदिरा गांधी और उनके बेटे संजय गांधी की भूमिका को दिखाया गया है। जिस वजह से कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने फिल्म को लेकर आपत्ति जताई है। कार्यकर्ताओं का आरोप है कि फिल्म में इंदिरा गांधी और संजय गांधी की छवि खराब करने की कोशिश की गई है।

बता दें कि फिल्म के ट्रेलर लांच होने के बाद से ही फिल्म को देशभर में काफी विरोध झेलना पड़ रहा है। ये विरोध इतना ज्यादा है कि लीगल नोटिस से लेकर, पुतला फूंकने तक मधुर भंडारकर को काफी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। कुछ लोगों ने मधुर भंडारकर पर ये भी आरोप लगाया गया है कि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थक हैं, इसलिए विपक्ष को जवाब देने के मकसद से फिल्म को भाजपा का समर्थन मिल रहा है। वहीं निर्देशक मधुर ने इसे खारिज करते हुए कहा कि अगर ऐसा होता तो मेरी फिल्म में 17 कट्स नहीं लगाए जा रहे होते। मुझे सेंसर बोर्ड आसानी से सर्टीफिकेट दे देता। मुझे ‘आरएसस’, ‘कम्यूनिस्ट’, ‘किशोर कुमार’, ‘अकाली’ और ‘जेपी नारायण’ जैसे शब्द हटाने को बोला गया है। लोगों ने सिर्फ ट्रेलर देखकर ही बवाल कर दिया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on July 16, 2017 3:25 pm

  1. No Comments.