ताज़ा खबर
 

इंदिरा गांधी की हत्या पर बनी फिल्म को सेंसर बोर्ड की हरी झंडी, मूवी से हटाए कई सीन

फिल्म इंदिरा गांधी की हत्या के बाद के घटनाक्रम पर आधारित है। फिल्म के निर्माता हैरी सचदेवा के मुताबिक, हिंसा और खून-खराबे वाले कई सीन को इस फिल्म से हटा दिया गया।
Author August 9, 2016 10:12 am
पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी।

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या पर आधारित फिल्म ‘31 अक्तूबर’ के कई सीन काटने के बाद और चार महीने की देरी के बाद सेंसर बोर्ड ने इसे हरी झंडी दे दी। इस फिल्म में अभिनेत्री सोहा अली खान और अभिनेता वीर दास मुख्य भूमिका में हैं। राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्म निर्माता शिवाजी लोटन पाटिल ने इस फिल्म का निर्देशन किया है।

फिल्म इंदिरा गांधी की हत्या के बाद के घटनाक्रम पर आधारित है। फिल्म के निर्माता हैरी सचदेवा के मुताबिक, हिंसा और खून-खराबे वाले कई सीन को इस फिल्म से हटा दिया गया। सचदेवा ने जारी एक बयान में कहा, ‘इसमें नौ बड़े सीन काटे गए। सेंसर बोर्ड का कहना था कि इनमें से कुछ दृश्य और संवाद एक खास समुदाय को उकसा सकते थे इसलिए इन्हें हटाया जाना जरूरी था।’

सचदेव ने कहा, ‘इसमें समय लगा, लेकिन हम सेंसर बोर्ड को वे दृश्य रखने के लिए राजी करने में कामयाब रहे, जो कहानी की सच्चाई के लिए जरूरी हैं। मैंने नौ बड़े कट्स किए हैं। सेंसर ने जोर देकर कहा था कि कुछ संवाद और दृश्य खास समुदाय को भड़का सकते हैं, इसलिए उन्हें कम करना जरूरी है। सुधार समिति ने हमसे कई बार फिल्म जमा करवाई और जिन दृश्यों से उन्हें ऐतराज था, उन्हें कटवाया।’

फिल्म में दिल्ली में साल 1984 की छाप देखने को मिलेगी। 31 अक्टूबर 1984 में सिख गार्ड्स द्वारा इंदिरा गांधी की हत्या के बाद दिल्ली काफी कुछ बदल गई है। इसलिए लुधियाना के एक गांव में दिल्ली का सेट बनाया बनाया गया।

मूवी में सोहा अली खान एक डरी हुई सिख महिला की भूमिका में नजर आएंगी। इसके साथ ही वीर दास उनके पति बने हैं। वीर और सोहा ने मूवी के लिए चार-पांच महीने ट्रेनिंग की है। सोहा ने अपने रोल के लिए पंजाबी सिखी है, वहीं वीर ने एक्शन सिखा है।

फिल्म का निर्देशन शिवाजी लोटन पाटील ने किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग