ताज़ा खबर
 

बाहुबली 2 में घोड़े या सांड़ नहीं, बल्कि रॉयल एनफील्‍ड के इंजन से दौड़ रहा था भल्‍लालदेव का रथ

फिल्म में भल्लालदेव के रथ को चलाने के लिए जिस तकनीक का इस्तेमाल किया गया उसे जानकर आप रह जाएंगे हैरान।
बाहुबली 2 में भल्लालदेव के रथ का सीन। (Source: Youtube movie trailer Video grab)

फिल्म “बाहुबली 2: द कनक्लूजन” एक जबर्दस्त हिट साबित हुई है। फिल्म की कमाई की बात करें तो यह भारत की पहली फिल्म है जिसने 1000 करोड़ रुपये की कलेक्शन की हो। जबरदस्त तकनीक के इस्तेमाल से इस फिल्म को एक भव्य रूप दिया गया है। वहीं शानदार वीएफएक्स ने इसके दृश्यों में चार चांद लगा दिए। मगर इस फिल्म के दृश्यों को सिर्फ वीएफएक्स या तकनीक की मदद से ही भव्य नहीं बनाया गया है। फिल्म के लिए शानदार सेट्स को भी तैयार किया गया और लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए छोटी से छोटी डीटेलिंग पर भी ध्यान दिया गया। ऐसे ही फिल्म के दोनों पार्ट में भल्लालदेव (राणा दग्गुबती) के पास जो रथ दिखाया गया है उसे बनाने से जुड़ी एक खास और मजेदार जानकारी सामने आई है।

भल्लालदेव के रथ को फिल्म के पहले पार्ट में घोड़े और दूसरे पार्ट सांड दौड़ाते हुए नजर आ रहे हैं लेकिन असल में इस रथ को दौड़ाने वाली ताकत किसी जानवर से नहीं बल्कि रॉयल एनफील्ड के इंजन से मिल रही थी। हाल ही में एक इंटरव्यू में फिल्म के प्रॉडक्शन डिजाइनर साबू सिरिल ने इस बात का खुलासा किया था। उन्होंने बताया था कि भल्लालदेव का रथ रॉयल एनफील्ड के इंजन के इर्द-गिर्द तैयार किया गया था। हालांकि इस बात का खुलासा नहीं हो पाया है कि रथ को दौड़ाने के लिए रॉयल एनफील्ड की किस बाइक के इंजन का इस्तेमाल किया गया होगा। ऐसे में सिर्फ कयास ही लगाए जा रहे हैं कि बाइक के लिए कौन से इंजन का इस्तेमाल हुआ होगा।

देखें वीडियो (Source: YouTube/Dharma Productions)

भारत में रॉयल एनफील्ड के 4 इंजन हैं। ऐसे में अनुमाना लगाया गया है कि रथ के लिए रॉयल एनफील्ड के 350cc, 500cc, 535cc या फिर 411cc, इनमें से किसी एक इंजन का इस्तेमाल किया गया होगा। बाहुबली सीरीज की दोनों फिल्मों में इफेक्ट्स का जबरदस्त इस्तेमाल हुआ है। वहीं फिल्म काफी लोगों द्वारा पसंद की जा रही है। फिल्म कमाई के मामले में भी काफी सारे रिकॉर्ड्स तोड़ चुकी है। फिल्म ने रिलीज के आठ दिनों के भीतर ही 800 करोड़ का आंकड़ा छू लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.