ताज़ा खबर
 

जानिए उड़ी हमले के बाद कैसे बदल गई पाकिस्तानी एक्टर अली जफर की जिंदगी

अली ने कहा- जब मैं भारत में काम कर रहा था तब मैं इस तथ्य की वजह से बहुत सतर्क रहता था कि यह मेरा देश नहीं है। एक्टर को लगता है कि यह सबकुछ पिछले साल हुए उड़ी हमलों से बिलकुल अलग था।
अली जफर ने बताया किस तरह सेउरी हमलो के बाद बदली चीजें।

तेरे बिन लादेन और किल दिल जैसी फिल्मों में नजर आने वाले अली जफर ने बताया है कि वो भारत में काम करते समय काफी सतर्क रहते थे क्योंकि दोनों देशों के बीच परिस्थितियां अनिश्चित हैं। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार- 37 साल के सिंगर से एक्टर बने अली ने कहा- भारत में काम करते समय मैं काफी सतर्क रहता था क्योंकि मैं इस तथ्य को जानता था कि यह मेरी मातृभूमि नहीं है और मुझे विश्वास था कि 2008 में मुंबई में हुए हमले के बाद से पूरा परिदृश्य बदल गया था।

अली ने कहा- जब मैं भारत में काम कर रहा था तब मैं इस तथ्य की वजह से बहुत सतर्क रहता था कि यह मेरा देश नहीं है। खुशकिस्मती से मेरी शूटिंग को केवल दो दिन बचे थे जब भारतीय मीडिया ने पाकिस्तान को थ्रैश (पराजित) करना शुरू कर दिया था लेकिन बुनियादी तौर पर कुछ नहीं बदला था। चीजें मेरे लिए काफी नॉर्मल थीं। एक्टर को लगता है कि 2008 का माहौल पिछले साल हुए उड़ी हमलों से बिलकुल अलग था। उन्होंने बताया कि पिछले साल उनका भाई दन्याल भारत में था। जब उड़ी में हमला हुआ तो किसी को नहीं पता कि कब और कैसे चीजें उस लेवल पर पहुंच गई जब भारत में पाकिस्तानी एक्टर्स के काम करने पर बैन लग गया।

अली ने कहा- मेरा अपना भाई दन्याल वहां मौजूद था। वो दो महीने से यशराज फिल्म्स की तैयारियों के लिए पहुंचा था। यशराज बैनर उसे लॉन्च करने वाला था। वो एक हफ्ते में फिल्म की शूटिंग शुरू करने वाला था। मेरी फिल्म डियर जिंदगी उस समय आई जब यह सब हुआ। किसी को नहीं पता था कि इससे क्या करें और जब चीजें उस लेवल पर पहुंच गई तो मैं पीछे हट गया और विचार करने लगा।

मुझे अहसास हुआ कि पहले और अब में क्या अंतर है। पहले इससे बड़ी घटना हुई थी लेकिन सोशल मीडिया के उद्भव से ऐसा हुआ। उस समय मेरे ब्रदर की दुल्हन के स्टार को लगा कि जो हुआ उसपर विचार करने और अपनी ऊर्जा को व्यर्थ गंवाने से कुछ नहीं होगा। जिन लोगों को नहीं पता उन्हें बता दें कि जम्मू और कश्मीर में हुए उड़ी हमले के बाद फवाद खान और माहिरा खान जैसे पाकिस्तानी स्टार्स पर भारत छोड़कर जाने के लिए दबाव डाला गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग