December 11, 2016

ताज़ा खबर

 

अजय देवगन ने कहा सेट पर हमें धर्म याद नहीं रहता

एक बहुत ही चम्तकारिक घटना हुई थी जिसके बारे में मैं बात नहीं करना चाहता, क्योंकि ये बहुत निजी है। फिल्म रिलीज के बाद फिर जाउंगा। साल में एक बार जरूर जाता हूं। तो धर्म का सवाल कहां गया?

बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन।

फेस्टिव सीजन की शुरुआत हो चुकी है। इसी दीवाली पर दो बड़ी फिल्में रिलीज होने वाली हैं। एक है करण जौहर की ऐ दिल है मुश्किल और दूसरी अजय देवगन की शिवाय। विवादों के बीच अब दोनों ही फिल्में रिलीज के लिए तैयार हैं। अजय देवगन से जब पूछा गया कि लोग कंटेट के ऊपर कम और निजी, राजनीतिक एंगल की वजहों से फिल्म पर ज्यादा बातें कर रहे हैं तो उन्होंने कहा- सबसे बड़ी परेशानी यही है कि सब घूम फिर के इसी मुद्दे पर आते हैं। फिल्म के बारे में बातें हट जाती हैं। ये अच्छा नही हैं। यह बहुत भयानक है। हम एक फिल्म को बनाने में सालों गुजार देते हैं और अचानक बात करने का मुद्दा ही बदल जाता है। जब उनसे पूछा गया कि आपकी फिल्म की बजाए फवाद के ऊपर बात होना, आपको अजीब नहीं लगता तो उन्होंने कहा कि हां बिल्कुल। ये काफी दुखी करने वाली बात है। लेकिन ये हम में से किसी ने नहीं बनाई थी। डेढ़ साल हमने विवाद पर नहीं बल्कि फिल्म पर काम किया है।

इस दिवाली बॉक्स ऑफिस पर भिड़ेंगी करण जौहर की ‘ऐ दिल है मुश्किल’ और अजय देवगन की ‘शिवाय’; जानिए कौन सी फिल्म देखना चाहते हैं दर्शक

जब अजय से धर्म पर जारी बहस को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मनोरंजन का कोई धर्म नहीं होता है, कि अब हिंदी दर्शक को अंदर करो। मैं क्यों अपने मुस्लिम दर्शक को छोड़ना चाहूंगा। मैं हर साल अजमेर शरीफ दरगाह जाता हूं और लोग कहते हैं अगली रिलीज के लिए मन्नत मांगने जा रहे हैं। लेकिन मैं एक ही वजह से जाता हूं, मेरी जिंदगी में एक घटना हुई थी, मुझे लगता है कि मेरे दोनों बच्चे वहीं की देन हैं। एक बहुत ही चम्तकारिक घटना हुई थी जिसके बारे में मैं बात नहीं करना चाहता, क्योंकि ये बहुत निजी है। फिल्म रिलीज के बाद फिर जाउंगा। साल में एक बार जरूर जाता हूं। तो धर्म का सवाल कहां गया? अल्लाह को माने या भगवान को माने या जीसस को माने- आप सभी सही हैं। इंडस्ट्री में हम एक-दूसरे के धर्म को अपनाते हैं। शूटिंग के वक्त जब रोजे चल रहे होते हैं तो ना केवल मेरा सेट बल्कि 90 प्रतिशत हर सेट पर इफ्तार के लिए लंबा टेबल लगा होता है। दस मिनट के लिए शूटिंग रोकी जाती है। और उनके साथ हम भी सब बैठकर खजूर खाते हैं। दीवाली हो तो सब दीवाली की पार्टी मनाते हैं। ये केवल मेरे फैक्ट्स नहीं है। ये इंडस्ट्री की सच्चाई है।

Read Also: रवीना टंडन को हुआ था अजय देवगन से प्‍यार, अक्षय कुमार से सगाई, पर नहीं हो पाई शादी, जानें क्‍यों?

अजय ने कहा कि मैं इस बात की गारंटी दे सकता हूं कि हमें शूटिंग के वक्त अपना धर्म याद नही रहता। फिर चाहे वो लाइटमैन, स्पॉटब्वॉय, एक्टर, डायरेक्टर हो या कोई टॉप एक्टर हो। हम जो भी धर्म से संबंधित काम करते हैं वो घर पर करते हैं। उसके अलावा सेट पर हमें कोई धर्म याद नहीं रहता है। हमारी इंडस्ट्री में धर्म को लेकर कभी पंगा नहीं हुआ।

Read Also: अजय देवगन को इंप्रेस करने के लिए 6-7 घंटे दिया था ऑडिशन, मिलिए शिवाय की एक्ट्रेस सायशा सैगल से

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 27, 2016 11:41 am

सबरंग