ताज़ा खबर
 

मोहम्मद रफी के परिवार के बाद बप्पी लाहिड़ी के बेटे ने जताया ऐ दिल है मुश्किल पर जताया विरोध

फिल्म इंडस्ट्री में अपने पिता के योगदान की सराहना करते हुए बप्पा ने कहा कि उन्होंने ऊह ला ला जैसा 80 के दशक का हिट रीमिक्स गाना दिया था। आई एम ए डिस्को डांसर को आज भी लोग पसंद करते हैं।
Author नई दिल्ली | November 10, 2016 15:20 pm
करण जौहर की फिल्म में हर तरह के इमोशन होते हैं।

ऐ दिल है मुश्किल को अगर इस साल की सबसे ज्यादा विवादित फिल्मों में से एक कहा जाए तो इसमें कोई बुराई नहीं होगी। फिल्म की रिलीज से पहले भी काफी विवाद था जिसे कि बाद में किसी तरह सुलझाया गया। अब जबकि फिल्म रिलीज होने के साथ ही 100 करोड़ के क्लब में शामिल हो चुकी है इससे दिग्गज गायक मोहम्मद रफी और मशहूर संगीतकार, गायक बप्पी लाहिड़ी के बेटे बप्पा नाराज हैं। मोहम्मद रफी के बेटे ने करण जौहर को फिल्म में अपने पिता का अपमान करने के लिए निशाना साधा था। वहीं बप्पा लाहिड़ी भी काफी नाराज हैं। उनके बेटे ने कहा मैंने ऐ दिल है मुश्किल को देखी और मैं इसमें अपने पिता के गाने की पैरोडी करने को लेकर नाराज हूं। मुझे समझ नहीं आता आखिर क्यों करण गोल्डन मेलोडी का मजाक उड़ा रहे हैं। करण ने मकसद जैसी फिल्म बनाई जिसमें अच्छे गाने मौजूद थे। हम सभी 80 के दशक के गानों को सुनकर बड़े हुए हैं। यहां तक कि आज की पीढ़ी भी उन गानों से प्रेरणा लेती है और आज हम उन गानों का मजाक उड़ा रहे हैं?

गोवा के DGP ने ‘ऐ दिल है मुश्किल’ का बायकॉट करने की अपील की; कहा- फिल्म में रफी का अपमान किया गया

फिल्म इंडस्ट्री में अपने पिता के योगदान की सराहना करते हुए बप्पा ने कहा कि उन्होंने ऊह ला ला जैसा 80 के दशक का हिट रीमिक्स गाना दिया था। आई एम ए डिस्को डांसर को आज भी लोग पसंद करते हैं। ताकी ओ ताकी भी सुपरहिट गाना था और उसके रीमिक्स को 2013 में आई हिम्मतवाला में दिखाया गया था। मैं यह बात कहना चाहता हूं कि मेरे पिता को इस बात से ज्यादा फर्क नहीं पड़ता है। ऐ दिल है मुश्किल इतनी बेकार है कि उनके लिए मायने नहीं रखती है।

सबसे बेकार चीज यह है कि इसमें 20 पुराने गानों को आईपॉड पर दिखाकर उनका मजाक बनाया गया है। यह काफी कन्फ्यूजिंग है। करण के पिता यशजी और मेरे पिता ने मुक्कदर का फैसला फिल्म में साथ में काम किया था। तो फिर क्यों करण मेरे पिता के संगीत का मजाक बना रहे हैं? 80 के गानों का मजाक उड़ाने की बजाए हमें अपने पिता के काम पर गर्व महसूस करना चाहिए। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है जब आज के बच्चे मेरे पिता की पीढ़ी का मजाक बनाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग