ताज़ा खबर
 

पश्चिमी दिल्ली: 45 वार्डों पर 396 उम्मीदवार

नगर निगम चुनाव में पश्चिमी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के 45 वार्डों के लिए 396 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।
Author नई दिल्ली | April 15, 2017 01:32 am

रूबी कुमारी

नगर निगम चुनाव में पश्चिमी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के 45 वार्डों के लिए 396 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इस लोकसभा क्षेत्र के अंदर 10 विधानसभा क्षेत्र आते हैं और हरविधानसभा के अंदर सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक और शहरी ग्रामीण विविधता देखी जा सकती है। कहीं सिख, पंजाबी, त्यागी, गुर्जर व जाटों का बोलबाला है, तो कई इलाकों में पूर्वांचलियों की भी अच्छी आबादी है। इतना ही नहीं वार्डों के अंदर भी अलग-अलग तबके और समुदाय के लोग हैं, इसलिए निगम चुनाव को लेकर मुद्दों में भी उतनी ही विविधता है। लेकिन, अमूमन हरेक जगह पार्टी की छवि से ज्यादा वर्तमान पार्षदों का पिछले पांच साल का रिपोर्ट कार्ड और मैदान में उतरे उम्मीदवारों की जन संपर्क क्षमता मतदाताओं का रुख तय करती नजर आ रही है। साथ ही कई जगह वर्तमान पार्षद लोकप्रिय हैं और उन्हें टिकट नहीं मिलने से जनता में नाराजगी है।

इन 45 सीटों में से ज्यादातर पर मुकाबला बहुकोणीय है क्योंकि भाजपा, कांग्रेस और आप जैसी प्रमुख पार्टियों ने अपने उम्मीदवार तो उतारे ही हैं, साथ ही जद(एकी), सपा, बसपा, शिवसेना और वाम दल भी कई सीटों से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। वहीं पहली बार चुनावी राजनीति में उतरी स्वराज इंडिया भी कई सीटों से लड़ रही है। हालांकि, पार्टी को चुनाव चिह्न नहीं मिलने के कारण इसके उम्मीदवार निर्दलीय के तौर पर खड़े हैं, लेकिन सभी ने सीटी का चिह्न अपनाया है।

द्वारका विधानसभा क्षेत्र
कुल 2.12 लाख आबादी वाले इस क्षेत्र में चार वार्ड हैं जिसके लिए 45 उम्मीदवार मैदान में हैं। डाबरी वार्ड से 8 उम्मीदवार, सागरपुर पश्चिम वार्ड से 10 उम्मीदवार, सागरपुर पूर्वी वार्ड से 12 उम्मीदवार और मंगलापुरी वार्ड से 15 उम्मीदवार मैदान में हैं।
उत्तम नगर विधानसभा क्षेत्र
इस विधानसभा में पांच वार्ड आते हैं जिनके लिए कुल 35 उम्मीदवार मैदान में हैं। दो सीट महिलाओं के लिए आरक्षित है। यहां की कुल आबादी 2.75 लाख के करीब है। मोहन गार्डन दक्षिण वार्ड से 9 उम्मीदवार हैं। भाजपा से श्याम कुमार मिश्रा, बसपा से नंदन सिंह रावत, कांग्रेस से मनोज कुमार गोयल और आप से संगीत शुक्ला हैं।
मोहन गार्डन उत्तरी वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित है और कुल 6 प्रत्याशी यहां किस्मत आजमा रही हैं, जिनमें भाजपा से बबिता, आप से शकुंतला, कांग्रेस से शालिनी शर्मा और बसपा से सुल्ताना हैं। सीटी चिह्न पर रचना गांधी भी खड़ी हैं। नवादा वार्ड से केवल 5 प्रत्याशी हैं जिनमें भाजपा के रमेश गहलोत, कांग्रेस के नरेश चंद्र शर्मा, आप के बलराज शर्मा और सीटी चिह्न पर अलका गहलोत हैं। उत्तम नगर वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित है और यहां से 6 उम्मीदवार हैं। भाजपा से आभा चौहान, कांग्रेस से रजनी शर्मा और आप से सुनीता खन्ना हैं। शेष निर्दलीय हैं। बिंदापुर वार्ड से 9 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं। यहां भाजपा, कांग्रेस, आप, बसपा, स्वराज इंडिया और एक निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में है।

विकासपुरी विधानसभा क्षेत्र
यहां से 61 प्रत्याशी चुनावी दंगल में शामिल हैं। लगभग 4 लाख आबादी वाले इस विधानसभा क्षेत्र में निगम के 6 वार्ड आते हैं जिनमें से तीन महिलाओं के लिए आरक्षित हैं। रंहोला वार्ड सामान्य सीट है जहां से 10 उम्मीदवार मैदान में खड़े हैं। यहां की कुल आबादी लगभग 60 हजार है।
विकासपुरी वार्ड महिला सीट है जहां से 8 उम्मीदवार मैदान में हैं। यहां की कुल आबादी 75 हजार के करीब है। यहां भाजपा की सरिता जिंदल, कांग्रेस की मधु शौकीन, आप की लीना असवाल और जद(एकी) की शर्मिष्ठा चंद विश्वास के बीच मुख्य मुकाबला है। हस्तसाल वार्ड सामान्य सीट है और यहां की आबादी 70 हजार के करीब है। यहां से कुल 13 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं।
सैनिक एन्क्लेव वार्ड की आबादी 70 हजार के करीब है और यहां 9 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। यह महिला सीट है, जहां कांग्रेस से सावित्री देवी, भाजपा से रीता, आप से निर्मला कुमारी, बसपा से सुमन देवी और सीटी चिह्न पर प्रीती केसरी चुनाव लड़ रही हैं। विकास नगर वार्ड सामान्य सीट है, जहां से 11 उम्मीदवार चुनावी दौड़ में हैं। बारापुला सीट महिलाओं के लिए आरक्षित है। यहां से कुल 10 लोग किस्मत आजमा रहे हैं। बसपा से ज्योति शर्मा, कांग्रेस से आशा सोलंकी, आप से पूनम सोलंकी, जद(एकी) से जुगनी देवी और सीटी चिह्न पर अमृता रश्मि हैं।

मटियाला विधानसभा क्षेत्र
पश्चिमी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र का यह विधानसभा क्षेत्र सबसे घनी आबादी वाला है और यहां से सबसे ज्यादा उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। चार लाख से ज्यादा की आबादी वाले इस क्षेत्र में कुल 7 वार्ड हैं जिसके लिए 76 प्रत्याशी मैदान में हैं। 7 में से 3 वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित हैं, जबकि 1 वार्ड अनुसूचित जाति के लिए है। सबसे ज्यादा प्रत्याशी छावला (16) और ककरौला वार्ड (16) से हैं। ये दोनों सामान्य वार्ड हैं। महिलाओं के लिए आरक्षित वार्ड हैं- नांगली सकरावती (13 उम्मीदवार), द्वारका-ए (10) और द्वारका-बी (5)। वहीं मटियाला से 9 उम्मीदवार मैदान में हैं और एससी आरक्षित सीट घुमन हेरा से 7 प्रत्याशी हैं। मुख्य मुकाबला भाजपा, कांग्रेस और आप के बीच है लेकिन, एक दो सीटों पर बसपा, जद(एकी) और शिवसेना भी लड़ाई में हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.