March 28, 2017

ताज़ा खबर

 

उत्तर प्रदेश चुनाव: डिम्पल ने कहा- प्रदेश का बेटा अखिलेश ‘मन की बात’ नहीं, बल्कि ‘काम की बात’ करता है

कन्नौज से समाजवादी पार्टी की सांसद डिंपल यादव ने यह बात आर्यनगर विधानसभा क्षेत्र में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित सभा में कही।

Author कानपुर/सीतापुर | February 16, 2017 18:18 pm
लखनऊ में एक चुनावी रैली के दौरान समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और उऩकी पत्नी डिंपल यादव। (PTI Photo by Nand Kumar/14 Feb, 2017)

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मन की बात नहीं करते बल्कि काम की बात करते हैं और वह उत्तर प्रदेश के बेटे है और प्रदेश का विकास करना चाहते हैं। वे काम करना चाहते हैं। कन्नौज से समाजवादी पार्टी की सांसद और मुख्यमंत्री की पत्नी डिंपल यादव ने यह बात गुरुवार (16 फरवरी) को दोपहर आर्यनगर विधानसभा क्षेत्र में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित सभा में कही। उन्होंने केंद्र की भाजपा सरकार और बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती दोनों पर निशाना साधते हुये कहा, ‘बुआ जी (मायावती) ने लखनऊ के पार्कों में हाथी लाइन से खड़े करवा दिये और केंद्र की भाजपा सरकार ने आपको अच्छे दिन का सपना दिखाकर नोटबंदी में लाइन में खड़ा करवा दिया। लेकिन चाहे हाथियों की लाइन में हो या आदमियों की लाइन प्रदेश की जनता को सिर्फ परेशानियां ही झेलनी पड़ी।’

उन्होंने कहा, ‘अखिलेश यादव प्रदेश का बेटा है वह मन की बात नहीं करता बल्कि काम की बात करता है। वह प्रदेश के विकास के सपने देखता है कि कैसे आम आदमियों को रोजगार के साधन मिले, कैसे महिलाओं को पेंशन मिले, कैसे हमारी सड़कें ठीक हो, कैसे छात्रों को लैपटाप मिले, कैसे बच्चों की अच्छी पढ़ाई हो, कैसे बिजली आये, कैसे पक्की सड़के बने।’ उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में 2012 में जो वायदे किये थे उनसे कही ज्यादा करके दिखाया। आगे और प्रदेश का विकास होगा अगर आप मौका देंगे। कानपुर में अभी मेट्रो ट्रेन चलना अभी बाकी है और यह तभी संभव हो पायेगा जब प्रदेश में दोबारा समाजवादी की सरकार आये। जनसभा में महिलाओं की भारी संख्या को देखते हुये उन्होंने कहा कि हमारी सरकार महिलाओं को मजबूत बनाना चाहती है इसलिये सरकारी नौकरी में 33 प्रतिशत आरक्षण और उम्र की सीमा हटा देगी। जनसभा को पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने भी संबोधित किया।

‘मन की बात’ करने के बजाय नोटबंदी से उपजी जनसमस्याओं पर ध्यान दें मोदी : राहुल

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार (16 फरवरी) को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह रेडियो पर ‘मन की बात’ करने के बजाय नोटबंदी के कारण आम लोगों को हुई दुश्वारियों पर ध्यान दें। राहुल ने लहरपुर में आयोजित चुनावी सभा में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को मन की बात करने के बजाय नोटबंदी के जनविरोधी फैसले से गरीबों को हुए नुकसान का हाल लेने पर ध्यान देना चाहिये। मोदी सिर्फ मन की बात कर रहे हैं, काम की नहीं। मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ अभियान पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि हम लोग आज जो मोबाइल फोन इस्तेमाल कर रहे हैं वह चीन में बना है और भारतीय मुद्रा उस देश में जा रही है। हम चाहते हैं कि हम अपना बनाया हुआ माल चीन में बेचें।

उन्होंने आरोप लगाया, ‘मोदी जी झूठे वादे करते हैं। उन्होंने विदेशी बैंकों से काला धन वापस लाने के बाद देश के हर नागरिक के खाते में 15-15 लाख रुपए डालने का वादा किया था। वह झूठा साबित हुआ। अब वह किसानों की कर्जमाफी की बात कर रहे हैं। उनका यह वादा भी झूठा साबित होगा।’ राहुल ने कहा कि मोदी सरकार ने नौजवानों को रोजगार नहीं दिया। उल्टे अपने चहेते 50 परिवारों का एक लाख 40 हजार करोड़ रुपए कर्ज माफ कर दिया। यह पैसा किसानों और गरीबों के भले में काम आ सकता था। सपा-कांग्रेस गठबंधन के बारे में उन्होंने कहा कि अगर जनता ने चुनाव में इस गठजोड़ का साथ दिया तो उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाया जाएगा।

उत्तर प्रदेश चुनाव 2017: मायावती ने किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन करने से किया इंकार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on February 16, 2017 6:17 pm

  1. No Comments.

सबरंग