ताज़ा खबर
 

उप्र विधानसभा चुनाव: अखिलेश यादव ने कहा, अगले केन्द्रीय बजट में भाजपा करेगी सपा सरकार की नकल

अखिलेश ने भाजपा पर हमले जारी रखते हुए कहा कि नोटबंदी से सबसे ज्यादा तकलीफ गरीबों, मजदूरों, किसानों और कामगारों को हुई है।
Author सुलतानपुर | January 24, 2017 16:38 pm
सुल्तानपुर चुनावी रैली में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव। (REUTERS/Pawan Kumar/24 Jan, 2017)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार (24 जनवरी) को कहा कि उनकी सरकार ने अपने चुनाव घोषणापत्र को मुकम्मल तौर पर लागू करके साबित किया है कि समाजवादियों की कथनी और करनी में कोई फर्क नहीं है और आगामी केन्द्रीय बजट में भाजपा सपा सरकार की नकल करेगी। मुख्यमंत्री ने राज्य विधानसभा चुनाव के लिये अपने प्रचार अभियान की शुरुआत करते हुए एक रैली में कहा कि सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने पिछली बार जो घोषणापत्र बनाया था, उसे उनकी सरकार ने पूरी तरह लागू किया है। इस बार के घोषणापत्र में प्रदेश और देश को आगे ले जाने वाली जरूरी चीजों को शामिल किया गया है। समाजवादियों की कथनी और करनी में कोई भेद नहीं है। जनता ने मन बना लिया है, अगर कोई जीतेगा तो ‘साइकिल’ (सपा का चुनाव निशान) वाला ही जीतेगा। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में एक पार्टी ने ‘अच्छे दिन’ लाने का झूठा नारा दिया और लोगों ने उस पर भरोसा कर लिया। इसके बदले में जनता को झाड़ू पकड़ा दी गयी और योग करवाया गया।

सपा अध्यक्ष ने कहा ‘अब तक तीन साल हो गये। चौथा बजट आने वाला है, मैं जिम्मेदारी से कहता हूं कि जब बजट आएगा तो उसमें हम समाजवादियों की (योजनाओं की) नकल की जाएगी। भाजपा ने तीन बजट दिये, उसमें गरीबों के लिये कोई सार्थक योजना नहीं थी। समाजवादी लोग ही उत्तर प्रदेश को आगे बढ़ाएंगे।’ अखिलेश ने कहा ‘राज्य का सियासी तापमान सपा के पक्ष में है। अब केवल साइकिल वाली सरकार ही बनेगी। अब तो आपके साथ कांग्रेस पार्टी भी है। तो सोचिये आप कितनी सीटें जीतने वाले हैं। पहले हम 250 से अधिक सीटें जीत रहे थे, अब 300 से ज्यादा जीतेंगे। हम बहुमत की सरकार बनाएंगे।’

अखिलेश ने भाजपा पर हमले जारी रखते हुए कहा कि नोटबंदी से सबसे ज्यादा तकलीफ गरीबों, मजदूरों, किसानों और कामगारों को हुई है। केन्द्र सरकार के इस कदम से पूरे देश में 70-80 लोगों की जान चली गयी। नोटबंदी का कोई लाभ नहीं हुआ। जो सोचा गया था वह हुआ ही नहीं। असली काला धन तो बड़े शहरों में रहने वालों का है और वे किसी बैंक या एटीएम की लाइन में नहीं खड़े हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जितने गरीब लोग बैंक और एटीएम की कतार में मर गये, उनके परिजन को राज्य सरकार ने दो-दो लाख रुपए की मदद की, क्योंकि उन्हें इसकी जरूरत थी। सरकार आगे भी गरीबों की मदद करना चाहती है। यही विकास का रास्ता है।

उन्होंने अपने परिवार में हाल में हुए झगड़े का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए कहा ‘हमने बहुत लड़ाई लड़ी। तमाम तरह की लड़ाई लड़ी। आपने अखबारों में बहुत सी खबरें और कहानियां पढ़ी होंगी लेकिन जो कुछ संघर्ष हुआ, वह आपके (जनता) लिए किया गया।’ अखिलेश ने पार्टी के नये घोषणापत्र में शामिल वादों तथा अपनी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने 55 लाख महिलाओं को समाजवादी पेंशन से जोड़ा। आने वाले समय में सभी गरीब महिलाओं को पेंशन योजना से जोड़ा जाएगा और एक करोड़ गरीब महिलाओं को एक-एक हजार रुपए प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी। आने वाले समय में शहरों के साथ-साथ गांवों में भी 24 घंटे बिजली मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में एक बार फिर सत्ता में आने पर उनकी सरकार आम जनता को मुफ्त स्मार्टफोन उपलब्ध कराएगी, ताकि लोगों को शासकीय योजनाओं की जानकारी लेने के लिये दफ्तरों के चक्कर ना लगाने पड़ें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे को बढ़ाकर बलिया तक ले जाया जाएगा। यह काम 30 महीने में पूरा किया जाएगा। इस सड़क के किनारे मंडियां बनायी जाएंगी, ताकि किसानों को बाजार मिले और युवाओं को रोजगार। अखिलेश ने कहा कि युवाओं के लिये उनकी सरकार क्षमता विकास की योजनाएं चलाएगी और सरकारी भर्तियां करेगी। नौजवानों के रोजगार और भविष्य के बारे में सिर्फ समाजवादी लोग ही गम्भीरता से सोच रहे हैं। इतना संतुलित काम करने वाली कोई दूसरी सरकार नहीं है। यूपी-100 सेवा का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि अगर जनता को पुलिस से भी कोई तकलीफ होती है तो आप 100 नम्बर पर उसकी भी शिकायत कर सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा सरकार चीजों में सुधार ला रही है और चीजों को बेहतर करने दिशा में काम कर रही है। उसने मुसलमान भाइयों को जिम्मेदारी से उनका हक दिलाने की कोशिश की है।

यूपी चुनाव: सपा ने जारी की चौथी सूची; अखिलेश यादव मुबारकपुर से तो अपर्णा यादव लखनऊ कैंट से उम्मीदवार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग