ताज़ा खबर
 

MCD chunav 2017: दिल्ली नगर निगम चुनाव में क्या है उम्मीदवारों के डबल रोल का झोल

272 में से 56 वार्ड ऐसे हैं जहां एक ही नाम के एक से ज्यादा कैंडिडेट हैं।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

दिल्ली नगर निगम चुनाव में अब कुछ ही घंटे रह गये हैं, लेकिन कई वार्डों में वोटिंग के दौरान मतदाताओं को उम्मीदवारों के नाम के चक्कर में परेशानी हो सकती है। दिल्ली नगर निगम के हर पांच में एक वार्ड ऐसा है जहां एक ही नाम के एक से अधिक कैंडिडेट मैदान में हैं। उम्मीदवारों का एक ही नाम मतदान करने के समय मतदाओं के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। अंग्रेजी वेबसाइट हिन्दुस्तान टाइम्स के मुताबिक 272 में से 56 वार्ड ऐसे हैं जहां एक ही नाम के एक से ज्यादा कैंडिडेट हैं। दिल्ली नगर निगम के लिए रविवार (23 अप्रैल) को वोटिंग होनी है, और इसकी मतगणना 26 अप्रैल को होगी।

हिन्दुस्ताान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली के ब्रह्मपुरी वार्ड में राजकुमार नाम से तीन प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं, इनमें से एक बीजेपी का, एक सीपीआई का और एक स्वतंत्र कैंडिडेट है। वहीं मंगोलपुरी में बीजेपी के कृष्ण कुमार गोदारा को टक्कर के लिए निर्दलीय कृष्ण मोहन पांडेय मैदान में हैं, जबकि कांग्रेस की माया देवी के मुकाबले निर्दलीय माया देवी अपना किस्मत आजमा रही हैं, इसी वार्ड में विजय नाम के दो निर्दलीय कैंडिडेट मैदान में हैं। यूं तो ईवीएम में उम्मीदवारों का नाम और चुनाव चिन्ह दोनों मौजूद होता है। लेकिन कम पढ़े लिखे मतदाताओं के लिए एक ही नाम के उम्मीदवारों के बीच अपनी परेशानी के कैंडिडेट के नाम के सामने बटन दबाना अच्छी खासी परेशानी का सबब बन जाता है। राजनीतिक पंडितों का कहना है कि ये अपने विरोधी के वोट को काटने का एक तरीका है। पोलिंग पैटर्न पर नजर रखने वाले राजनीति शास्त्री कहते हैं कि जहां वोटर्स की संख्या कम होती है और जहां जीत हार का फैसला कम मतों के आधार पर होता है वहां वोट काटने की ये रणनीति कई बार आश्चर्यजनक परिणाम देती है।

उत्तरी दिल्ली के कादीपुर वार्ड में कांग्रेस की नीतू सिंह को टक्कर देने के लिए नीतू नाम की दो निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में उतरीं हैं। हालांकि कई पार्टियां अपने विपक्षियों की इस रणनीति को समझ गईं हैं, और अपने अपने अपने कैंडिडेट्स को नाम के साथ साथ सीरियल नंबर भी मतदाताओं को बताने का निर्देश दिया है।

चंद मिनटों में बनेगा अब पैन कार्ड; ऐप के जरिए भर सकेंगे इनकम टैक्स

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.