ताज़ा खबर
 

SSC MTS Exam 2017: कमीशन ने जारी की कैंडिडेट्स के लिए जरूरी नोटिफिकेशन, यहां पढ़ें विशेष निर्देश

SSC MTS Exam 2017: उम्‍मीदवारों को चप्‍पल पहनने की सलाह दी गई है क्‍योंकि तलाशी के समय जूते उतारने पड़ेंगे।
SSC MTS Exam 2017: एसएससी एमटीएस 2016 पेपर 1 के लिए उम्मीदवारों को 90 मिनट का समय मिलेगा।

स्‍टाफ सेलेक्‍शन कमीशन (SSC) ने शनिवार से शुरू हो रही MTS Non Technical 2016 परीक्षा के लिए निर्देश जारी किए हैं। उम्‍मीदवारों को इस बात की जानकारी होगी कि पेपर लीक होने की वजह से SSC Multi Tasking (Non Technical) Staff examination 2016 रद्द कर दिया गया था। एसएससी द्वारा जारी ताजा नोटिफिकेशन के मुताबिक, एमटीएस पेपर 1 2016 की परीक्षा- 16 सितंबर से 31 अक्टूबर, 2017 तक आयोजित होंगी। इन्‍हीं के लिए एसएससी ने निर्देश जारी किए हैं।

SSC Multi Tasking (Non Technical) Staff examination 2016 के उम्‍मीदवारों के लिए विशेष निर्देश:

– उम्‍मीदवार किसी तरह का बैग, फोन, घड़ी, किताबें, मैगजीन्‍स, कैलकुलेटर, स्‍कैनर, ब्‍लूटूथ डिवाइसेज, पेन कैमरा, पेप या पेपर चिट न लाएं।
– एसएससी की ओर से परीक्षा केंद्र पर किसी सामान की देखरेख की व्‍यवस्‍था नहीं की जाएगी। इसलिए उम्‍मीदवार परीक्षा केंद्र के भीतर यह वस्‍तुएं लेकर न जाएं।
– आयोग की तरफ से पेन/पेंसिल और रफ कार्यों के लिए पेपर परीक्षा केंद्र पर ही मुहैया कराया जाएगा। इसके अलावा कंप्‍यूटर स्‍क्रीन पर सभी उम्‍मीदवारों को समय दिखता रहेगा।
– किसी भी तरह के अनुचित साधनों का प्रयोग करते पकड़े जाने पर आयोग वैधानिक कार्रवाई करेगा। उम्‍मीदवार को 3 साल के लिए डिबार करने का भी प्रावधान है।
– नोटिफिकेशन के अनुसार, उम्‍मीदवार चार्म, ब्रेसलेट, बुर्का, अंगूठी, कान की बाली, नोज पिन, चेन, गले का हार, पेंडेंट, हेयर पिन नहीं पहन सकते। उम्‍मीदवारों को चप्‍पल पहनने की सलाह दी गई है क्‍योंकि तलाशी के समय जूते उतारने पड़ेंगे।

एसएससी एमटीएस 2016 पेपर 1 के लिए उम्मीदवारों को 90 मिनट का समय मिलेगा। पेपर में 25 सावलों के चार सेक्शन होंगे और हर सवाल 2 मार्क्स का होगा। पेपर 200 मार्क्स का होगा। वहीं दिव्यांग उम्मीदवारों को 120 मिनट का समय मिलेगा। गलत जवाब देने के लिए नेगेटिव मार्किंग भी होगी। यानी हर गलत जवाब के एक-चौथाई अंक काटे जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.