January 16, 2017

ताज़ा खबर

 

दसवीं कक्षा की वैकल्पिक बोर्ड परीक्षा को खत्म करने पर विचार करेगा सीबीएसई

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कक्षा 10 की वैकल्पिक बोर्ड परीक्षा और सीसीआई की समीक्षा करना शुरू कर दी है।

यह समीक्षा कई स्कूलों और स्टेट बोर्ड की राय के बाद की जा रही है जिसमें बोर्ड और स्कूलों का कहना है कि इसे पहले की तरह ही अनिवार्य कर देना चाहिए।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कक्षा 10 की वैकल्पिक बोर्ड परीक्षा और सीसीआई की समीक्षा करना शुरू कर दी है। सीबीएसई चेयरमैन आरके चतुर्वेदी ने कहा कि बोर्ड इस मुद्दे पर हितधारकों से बात की थी। उन्होंने बताया कि उनमें से अधिकतर का कहना है कि कक्षा 10 के लिए दोहरा सिस्टम भ्रमित करने वाला है और सीसीई से जुड़ी परीक्षाओं को लेकर भी हितधारकों का मानना है कि इससे हटाया जा सकता है। यह समीक्षा कई स्कूलों और स्टेट बोर्ड की राय के बाद की जा रही है जिसमें बोर्ड और स्कूलों का कहना है कि इसे पहले की तरह ही अनिवार्य कर देना चाहिए।

चतुर्वेदी ने ये भी बताया कि परीक्षा को लेकर उपनियमों और संबद्धता नियमों में बदलाव करने के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। इसके अलावा किसी भी रिजनल ऑफिस से सर्टिफिकेट के लिए अप्लाई करने को मंजूरी देने पर भी ध्यान दिया गया है। साथ ही चतुर्वेदी ने कहा कि ये नियम बहुत पहले लिखे गए थे, हालांकि समय समय पर इसमें परिवर्तन भी किए गए हैं, लेकिन इसमें की चीजें अभी भी स्पष्ट नहीं है। शिक्षा में बदलाव की जरुरत है। हमने पवनेश कुमार की अध्यक्षता में इन अस्पष्टताओं को दूर करने के लिए एक कमेटी बनाई है। इससे एफिलिएशन को लेकर हो रही धांधली के खिलाफ कार्रवाई होगी और इससे परीक्षा के सिस्टम में सुधार होगा।

देखें- देश-दुनिया की बड़ी खबरें

एफिलिएशन प्रोसेस को जल्दी करने के आदेश को लेकर बोर्ड ई-एफिलिएशन सिस्टम लाने की पहल कर रहा है और परीक्षा व एफिलिएशन के लिए एक अलग ईकाई बनाने की योजना बना रहा है। इसी के साथ अब विद्यार्थी डिजिटल लॉकर से अपने प्रमाण पत्र डाउनलोड कर सकेंगे और सीबीएसई से जुड़ी हुई संस्थाएं भी ऑनलाइन प्रमाण पत्र ले सकेंगी। बोर्ड सभी प्रमाण पत्रों को डिजिटल कर रही है और विद्यार्थी किसी भी रिजनल ऑफिस से कोई भी प्रमाण पत्र हासिल कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 5, 2016 10:29 am

सबरंग