ताज़ा खबर
 

हिन्दी भाषा में इंजीनियरिंग कोर्स शुरू, कुलपति बोले- 250 साल से इंजीनियरिंग-मेडिकल शिक्षा पर अंग्रेजी का कब्जा

कुलपति ने कहा कि कुछ मुल्कों को छोड़ दिया जाए तो रूस, इस्राइल, चीन, जापान, कोरिया, और जर्मनी सहित दुनिया के अन्य देशों में इन पाठ्यक्रमों की शिक्षा इन देशों की स्वभाषा में दी जाती है।
Author भोपाल | August 20, 2016 16:24 pm
अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय।

रूस, इस्राइल, चीन, जापान, कोरिया, जर्मनी और दुनिया के अन्य देशों की तरह इंजीनियरिंग और मेडिकल की स्वभाषा में शिक्षा के महत्व को देखते हुए मध्यप्रदेश के अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय ने चालू सत्र से विद्यार्थियों को हिंदी माध्यम से इंजीनियरिंग पढ़ाने की पेशकश की है। विवि ने फिलहाल मैकेनिकल, सिविल, और इलेक्ट्रिकल शाखा में अभियांत्रिकी (इंजीनियरिंग) की डिग्री और डिप्लोमा पाठ्यक्रम शुरू किए हैं। कुलपति प्रो. मोहनलाल छीपा ने बताया कि विश्वविद्यालय ने चालू शिक्षा सत्र से हिन्दी में इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम पूरी तैयारी के साथ शुरू कर दिया है तथा मैकेनिकल, सिविल और इलेक्ट्रिकल शाखाओं में डिग्री और डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश प्रक्रिया जारी है।’

उन्होंने कहा कि प्रवेश प्रक्रिया पूरी होने के बाद हम हिन्दी माध्यम में कक्षाएं शुरू कर देंगे। पाठ्यक्रम के लिए हिंदी माध्यम से पढ़ाई करने के लिए अब तक प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों की संख्या के सवाल पर उन्होंने कहा कि 31 अगस्त तक प्रवेश प्रक्रिया पूरी हो जाएगी जिसके बाद हम चालू सत्र में हिन्दी माध्यम से पढ़ाई शुरू कर देंगे फिर चाहे इसमें केवल एक ही विद्यार्थी क्यों न हो।’ उन्होंने कहा कि महत्वपूर्ण यह है कि लगभग 250 साल से इंजीनियरिंग और मेडिकल शिक्षा पर अंग्रेजी माध्यम का कब्जा रहा है और इसमें अब हिन्दी माध्यम का विकल्प उपलब्ध कराने का यह प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं आने दी जाएगी।’ उन्होंने कहा कि कुछ मुल्कों को छोड़ दिया जाए तो रूस, इस्राइल, चीन, जापान, कोरिया, और जर्मनी सहित दुनिया के अन्य देशों में इन पाठ्यक्रमों की शिक्षा इन देशों की स्वभाषा में दी जाती है और ये सभी देश तरक्की कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. P
    Pankaj
    Aug 20, 2016 at 4:11 pm
    अब हमे ी मायने मे अंगरेजो से अाजाद होगे !
    (0)(0)
    Reply
    1. देवराज
      Aug 20, 2016 at 6:31 pm
      अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय, भोपाल के कुलपति प्रो. मोहनलाल छीपा को बधाई कि उन्होंने इंजीनियरिंग अनुशासन के शिक्षण में हिंदी को स्थान दिया| यदि विश्वविद्यालय इस शिक्षण के लिए हिंदी में स्तरीय पाठ्य पुस्तकें भी तैयार करा सके, तो बहुत उपयोगी होगा|
      (0)(0)
      Reply
      1. M
        madan gupta
        Aug 21, 2016 at 1:41 am
        अपना देश अपनी भाषा.
        (0)(0)
        Reply
        सबरंग