ताज़ा खबर
 

निकाह के दौरान दुल्हे ने मांगी कार तो दुल्हन ने दिया यह करारा जवाब…

मध्यप्रदेश के शहर इंदौर की एक दुल्हन ने दहेज मांगने वालों को ऐसा जवाब दिया कि वह भी देखकर दंग रह गए।
Author नई दिल्ली | October 7, 2015 13:22 pm

यू तो दहेज के किस्से बहुत सुने होंगे, जिसकी खातिर जहां कई युवतियां मौत की शिकार होती हैं तो कई जिंदा रहते हुए घरेलु प्रताड़ना सहती रहती हैं। कुछ युवतियां कोर्ट का दरवाजा खटखटाते हुए जिंदगी भर दहेज के खिलाफ लड़ाई लड़ती रहती हैं तो कुछ के मायके वालों को ससुराल वालों के सामने मुंहकी खानी पड़ती है।

लेकिन मध्यप्रदेश के शहर इंदौर की एक दुल्हन ने दहेज मांगने वालों को ऐसा जवाब दिया कि वह भी देखकर दंग रह गए। हालांकि इसमें उस दुल्हन का साथ उसी घर के एक सदस्य ने दिया जिसके परिवार वाले उसके परिजनों से दहेज मांग रहे थे।

दहेज में कार की मांग को लेकर अड़े दुल्हें को इस दुल्हन ने अच्छा सबक सिखाया। दरअसल, शहर के अब्दुल हफीज शाह ने बेटी तमन्ना की शादी देवास के अजीज शाह के बेटे फरीद से तय किया था, 14 सितंबर को सगाई हो गई और 6 अक्टूबर का दिन शादी थी।

लेकिन लड़के ने युवती के परिजनों से पहले कार दहेज में मांगने की बात कही और ये भी कहा कि जब तक कार नहीं देंगे तो बारात नहीं आएगी।

ईद के बाद से फरीद लगातार कार की मांग करता रहा। पिता ने बाइक का इंतजाम कर लिया। दूल्हे ने कहा- कार नहीं मिलेगी तो बरात लेकर नहीं आऊंगा।

रात 11 बजे तक लड़का देवास में ही बरात रोके बैठा रहा। बोलता रहा कि कार दो या चार लाख रुपए, वरना रिश्ता भूल जाओ। इसके बाद 11.30 बजे हफीस ने खजराना थाने पर फरीद की शिकायत कर दी।

मायूसी के माहौल के बीच हफीज के छोटे भाई हनीफ शाह ने अपने ससुराल पक्ष से रमजान शाह को तैयार किया। इसके बाद रमजान ने अपने बेटे शरीफ से बात की और तमन्ना का निकाह तय हुआ और तुरंत काजी को बुलाकर निकाह पढ़वाया गया।

शरीफ ने बताया उनकी तरफ से तमन्ना से रिश्ते की बात पहले हो गई थी, लेकिन किन्हीं कारणों से रिश्ता हो नहीं सका। वे तो पहले से इस रिश्ते के लिए तैयार थे।

दुल्हन तमन्ना ने कहा कि दहेज के ऐसे लालची लोगों को पुलिस सबक सिखाए ताकि फिर किसी बेटी और उसके परिवार को यह जिल्लत न सहना पड़े। निकाह से मैं खुश हूं। यहां पर यह भी कह सकते हैं कि इस दुल्हन की किस्मत अच्छी थी, लेकिन अगर बाकई दहेज के खिलाफ लड़ाई लड़नी है तो अकेले हनीफ के ऐसा करने से कुछ नहीं होगा बल्कि सभी को आवाज उठानी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. N
    Naveen Bhargava
    Oct 7, 2015 at 1:40 pm
    (0)(0)
    Reply