February 20, 2017

ताज़ा खबर

 

राजीव बजाज का नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला- नोटबंदी का आइडिया ही गलत था, मेड इन इंडिया को बनाया जा रहा मैड इन इंडिया

बजाज अॉटो की घरेलू बिक्री जनवरी महीने में (दोपहिया और तिपहिया सहित) 16 प्रतिशत घटकर 1,35,188 इकाई रह गई।

Author February 17, 2017 16:14 pm
बजाज के मैनेजिंग डायरेक्टर राजीव बजाज

देश की जानी-मानी अॉटो कंपनी बजाज के मैनेजिंग डायरेक्टर राजीव बजाज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले की कड़ी आलोचना की। बजाज के मुताबिक नोटबंदी का आइडिया ही गलत था, लिहाजा इसे लागू करने के तरीके पर उंगली उठाने का कोई फायदा नहीं है। द नेशनल एसोसिएशन ऑफ सॉफ्टवेयर एंड सर्विसेज कंपनीज (नैसकॉम) के सालाना लीडरशिप फोरम में बजाज ने कहा- ‘अगर ख्याल या समाधान सही है तो वो जरूर काम करता है। अगर ऐसा नहीं हो रहा है, मसलन नोटबंदी, तो उसके अमल को दोष मत दीजिए।
बजाज ने मोदी सरकार के ‘मेक इन इंडिया’ पर भी तंज कसे।

उन्होंने कहा कि नियामक एजेंसियां और सरकारी मंजूरी की प्रक्रिया ‘मेक इंडिया’ को ‘मैड इन इंडिया’ में तब्दील कर देंगी। उन्होंने बताया किस तरह बजाज ऑटो को 4 साल बीत जाने पर भी बाजार में चौपहिया वाहन उतारने की इजाजत नहीं मिली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 8 नवंबर को 500 और 1,000 के नोटों को बंद करने की घोषणा की थी। इसका मकसद कालेधन पर अंकुश लगाना था। नोटबंदी के प्रभाव से दोपहिया उद्योग अभी तक उबर नहीं पाया है।

उद्योग के आंकड़ों के अनुसार दो महीने के दौरान इस क्षेत्र की बिक्री में गिरावट आई है। उद्योग उम्मीद कर रहा है कि बेहतर मानसून तथा ग्रामीण अर्थव्यवस्था में तेजी से दोपहिया की बिक्री सुधरेगी। बजाज अॉटो की घरेलू बिक्री जनवरी महीने में (दोपहिया और तिपहिया सहित) 16 प्रतिशत घटकर 1,35,188 इकाई रह गई। इससे एक साल पहले समान महीने में कंपनी ने 1,61,870 इकाइयों की बिक्री की थी। नोटबंदी से केवल बजाज ऑटो ही नहीं प्रमुख वाहन कंपनी महिंद्रा की सेल्स भी बुरी तरह प्रभावित हुई। महिंद्रा ने कहा कि नोटबंदी के कारण उपभोक्ता नकदी का प्रबंध नहीं कर पाए। ऑटो सेक्टर को उम्मीद है कि बेहतर मॉनसून और ग्रामीण इकॉनमी में उछाल से दोपहिया वाहनों की बिक्री फिर सुधरेगी।

बता दें कि प्रधानमंत्री के नोटबंदी के फैसले की विपक्षी दलों ने कड़ी आलोचना की थी। इस कारण संसद का शीत सत्र भी धुल गया था। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और प.बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने जन्तर-मन्तर पर विरोध रैली भी निकाली थी। वहीं एटीएम और बैंकों की लाइन में लगने के दौरान कई लोगों की मौत हो गई थी।

iPhone भी नहीं झेल पाया नोटबंदी का असर, खतरे में पड़ा ऐप्पल का रिवेन्यू, देखें वीडियो :

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on February 17, 2017 4:12 pm

सबरंग