ताज़ा खबर
 

कौन है यह एमपी का VIP चाय वाला, जिसे अमिताभ बच्चन, नरेंद्र मोदी लिखते हैं खत?

क्या आप यह मानेंगे कि एक चाय वाले के खत का जवाब देते हैं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बॉलीवुड के मेगास्टार अमिताभ बच्चन? जी हां, यह बात है मध्यप्रदेश के इंदौर की जहां, एक चायवाले का अमिताभ बच्चन, पोप बेनेडिक्ट(सोहलवें), नरेंद्र मोदी, एपीजे अब्दुल कलाम जैसी देश-विदेश के वीवीआईपी हस्तियों से पत्र के ज़रिए बातचीत होती है।
Author नई दिल्ली | September 14, 2015 16:31 pm
नरेंद्र मोदी ने इस साल की शुरुआत में फिल्म स्टार शाहरुख खान को ट्विटर पर पीछे छोड़ा था (FILE PHOTO)

क्या आप यह मानेंगे कि एक चाय वाले के खत का जवाब देते हैं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बॉलीवुड के मेगास्टार अमिताभ बच्चन?

जी हां, यह बात है मध्यप्रदेश के इंदौर की जहां, एक चायवाले का अमिताभ बच्चन, पोप बेनेडिक्ट(सोहलवें), नरेंद्र मोदी, एपीजे अब्दुल कलाम जैसी देश-विदेश के वीवीआईपी हस्तियों से पत्र के ज़रिए बातचीत होती है।

चौंकने वाली बात तो ज़रूर है कि कैसे अपने बीज़ी शेड्यूल से वक्त निकालकर मोदी, अमिताभ जैसे दिग्गज नेता और अबिनेता इस चाय वाले को पत्र लिखा करते हैं।

ख़बर है कि, इंदौर में रहने वाले 50 वर्षीय यह शख्स रामू नागर करीब 12 सालों से हर रोज 12 घंटे चाय बेचने का काम करता है। यही नहीं चाय बेचने के अलावा वह मशहूर विदेशी शख्सियतों को भी पत्र लिखने का काम करता है।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इस शख्स के पास 100 से ज्यादा वीआईपी के पत्रों का कलेक्शन हैं। खास बात यह है कि सबसे ज्यादा पत्र उन्हें अमिताभ बच्चन ने लिखे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उन्हें छह बार पत्र भेज चुके हैं।

नागर का कहना है कि, उन्होंने अमिताभ बच्चन के पिता कवि हरिवंशराय बच्चन के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करने के लिए पत्र लिखा था, जिसके जवाब में अमिताभ बच्चन ने अपनी हैंडराइटिंग में हरिवंशराय बच्चन की पंक्तियां लिखकर भेजीं। यही नहीं पत्र में अमिताभ के साथ जया बच्चन के भी हस्ताक्षर थे।

महारानी एलिजाबेथ, टोनी ब्लेयर, पोप बेनेडिक्ट, भारत के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री कार्यालय तक सभी ‘रामू टी स्टाल, एलआईजी चौराहा, रेशम लेन कंपाउंड, इंदौर’ के पते से वाकिफ हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग