ताज़ा खबर
 

दिल्ली का चुनाव तय करेगा देश की छवि : नरेंद्र मोदी

अमलेश राजू दिल्ली विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पहली बार भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाने का प्रयास किया। दस जनवरी की रामलीला मैदान में आयोजित रैली की विफलता से सबक लेते हुए मोदी ने शनिवार को अपनी शैली में भीड़ से सीधा संवाद कायम किया। […]
Author February 1, 2015 08:31 am
विश्व समुदाय के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ऊर्जावान नेता के रूप में प्रसिद्ध हुए। बारह महीनों में 18 देशों की उनकी यात्रा किसी रिकॉर्ड से कम नहीं है।(फाइल फोटो-पीटीआई)

अमलेश राजू

दिल्ली विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पहली बार भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाने का प्रयास किया। दस जनवरी की रामलीला मैदान में आयोजित रैली की विफलता से सबक लेते हुए मोदी ने शनिवार को अपनी शैली में भीड़ से सीधा संवाद कायम किया। कड़कड़डूमा के सीबीडी परिसर में हुई इस रैली में मोदी ने चुनाव आचार संहिता के मद्देनजर कोई नई घोषणा नहीं की। लेकिन उन्होंने झुग्गी वालों को उसी जगह पर पक्का मकान, दिल्ली वालों को पानी की समस्या से मुक्ति और यमुना की सफाई के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा का जिक्र जोर-शोर से किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आपने मुझे बुलाया तो मैं दिल्ली में रहने लगा। दिल्लीवासी हो गया। आपके बुलावे पर दिल्ली में गद्दी पर बैठने नहीं आया हूं। यहां आपके कंधे से कंधा मिलाकर आपकी सेवा करने आया हूं। पंद्रह सालों से बर्बाद हो रहे दिल्ली को विकास के पथ पर लाने आया हूं। साउथ ब्लाक में बैठने की जगह देने से ही काम नहीं चलेगा बल्कि यहां की हर गली-मुहल्ले की सेवा कर सकूं इसलिए दिल्ली में भाजपा के ऐसे प्रतिनिधि को चुनिए जिनके कंधे से कंधा मिलाकर काम कर सकूं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली में कौन विधायक बने, कौन न बने, किसकी सरकार बने, किसकी न बने, इतने मात्र के लिए यह चुनाव सीमित नहीं है। यह चुनाव तय करेगा कि पूरी दुनिया में हिंदुस्तान की छवि कैसी होगी? अगर दुनिया को पूरी हिंदुस्तान की पहचान करानी हो तो दिल्ली से अलग कोई जगह नहीं है। मोदी ने आम आदमी पार्टी का नाम लिए बिना कहा कि जिन्होंने एक साल पहले जनता को अस्थिर सरकार देकर उन्हें दलदल में छोड़ दिया उन्हें जनता ने लोकसभा चुनावों में सबक सिखा दिया। जनता बार-बार गलती नहीं करती।

उन्होंने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में सर्वाधिक सीटें जीतने के बावजूद भाजपा सरकार बनाने में सफल नहीं हुई। पार्टी ने सौदेबाजी का रास्ता नहीं अपनाया। हमने विनम्रतापूर्वक दिल्ली की जनता से माफी मांगी थी। दिल्ली के दिल में कसक रह गई थी कि उसने हमें बहुमत नहीं दिया। लेकिन लोकसभा चुनावों में दिल्ली ने दिल खोलकर हमें समर्थन दिया। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में जिस राजनीतिक दल के सर्वाधिक उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई वे जमानत जब्ती का विश्व रिकॉर्ड बनाकर अभी भी लोगों को दिग्भ्रमित कर रहे हैं। आंखों में धूल झोंकने वाले ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीबों की चिंता नारेबाजी से नहीं होती। पहले गरीबों का बैंक खाता नहीं खुलता था। लेकिन हमने जन-धन योजना लाकर स्थिति बदल दी है। हम अपनी युवा शक्ति को रोजगार देना चाहते हैं इसलिए ‘मेक इन इंडिया’ अभियान चलाया है। किरण बेदी के नेतृत्व में भाजपा को दो तिहाई बहुमत देने की लोगों से अपील करते हुए मोदी ने कहा कि दिल्ली को स्थिर सरकार चाहिए। दिल्ली को सरकार चलाने का तजुर्बा वाले लोग चाहिए। किरण बेदी में वह अनुभव है जो दिल्ली को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा। कुछ लोगों ने एक साल दिल्ली को बर्बाद करने का काम किया है। दिल्ली में भाजपा के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत की सरकार दें, दिल्ली भी विकास के तीव्र पथ पर आगे बढ़ेगी।

दिल्ली की समस्याओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली में पीने के पानी की समस्या हमने देखी है। पहले केंद्र और हरियाणा में कांग्रेस की सरकार होने पर भी दिल्ली में पीने के पानी की समस्या रही। लेकिन केंद्र और हरियाणा दोनों स्थानों पर भाजपा सरकार बनने पर हरियाणा ने दिल्ली को पानी देना शुरू किया। यह प्रदर्शित करता है कि अगर अच्छे सोच वाले लोगों की सरकार बने तब अच्छे फैसले किए जाते हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चलाने का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि मैंने भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा अभियान शुरू किया है। मैं बयानबाजी कम करता हूं। लेकिन ऐसे कदम उठा रहा हूं कि इस पर नकेल लग रही है। इस सिलसिले में उन्होंने गैस सबसिडी का पैसा सीधे लोगों के खातों में जमा करने, गरीबों का बैंकों में खाता खोलने और मेक इन इंडिया जैसी योजनाओं का जिक्र किया। सरकार को गरीबों के लिए और गरीबों को समर्पित करार देते हुए उन्होंने कहा कि जब देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होंगे तब 2022 तक गरीबों को पक्का मकान मुहैया कराने का उनका इरादा है। झुग्गीवासियों को उसी जगह पक्का मकान दिया जाएगा जहां वे झुग्गी में रहते हैं। उन्हें दूर नही फेंका जाएगा कारण। उनकी जीविका उन्हीं इलाके से चलती है।

सम्मान के साथ जीने का आश्वासन देते हुए मोदी ने कहा कि देश के गरीबों को सम्मान के साथ अवसर मिलना चाहिए और इसकी शुरुआत दिल्ली से करना चाहते हैं। उन्होंने यमुना नदी की चर्चा करते हुए कहा कि यह दिल्ली की शान बन सकती है लेकिन आज इसकी क्या हालत है। हम इसे बदलना चाहते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैंने ठान लिया है, मुझे इसके लिए आपका आशीर्वाद चाहिए। मुझे दिल्ली के लोगों के जीवन को नई दिशा देनी है, गरीबों का कल्याण और यहां नौजवानों को रोजगार प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि हमारी 65 फीसद आबादी 35 साल से कम आयु की है। ऐसे युवा देश-दुनिया की तस्वीर बदल सकते हैं।

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा के बारे में आप की आलोचना का अप्रत्यक्ष जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि अगर ओबामा की यात्रा के संदर्भ में थोड़ी सी चूक हुई होती और यह केवल 26 जनवरी के कार्यक्रम तक ही सीमित रहती, तो हमारे विरोधी हमें बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ते। उन्होंने कहा कि आज दुनिया का कोई भी महापुरुष और दिग्गज यदि आंखों में आंख डालकर देखता है तो वह मोदी की आंखों में नहीं बल्कि सवा सौ करोड़ हिंदुस्तान की हैसियत के कारण डाल रहा है। उन्होंने कहा कि अगर हिंदुस्तान में दिल्ली का डंका बजाना है तो किरण बेदी के नेतृत्व में दिल्ली की पूर्ण बहुमत की सरकार जनता को देनी होगी। उन्होंने मतदाताओं से कहा कि जिस तरह से लोगों ने केंद्र में 30 साल बाद पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनाई है, उसी तरह से दिल्ली में भी पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनाएं।
सभा को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, प्रदेश प्रभारी प्रभात झा, सांसद मनोज तिवारी, महेश गिरी सहित कई अन्य सांसदों व विधायकों ने भी संबोधित किया।
आप पर वार:

एक साल पहले जिन लोगों ने सपना दिखाया था, उन्हीं लोगों ने जनता की पीठ में छुरा घोंपा। जनता ने लोकसभा चुनाव में दिल्ली को बर्बाद करने वालों को नहीं बख्शा।
तजुर्बे का तकाजा:

किरण बेदी के नेतृत्व में भाजपा को दो तिहाई बहुमत देने की लोगों से अपील करते हुए मोदी ने कहा कि दिल्ली को स्थिर सरकार चाहिए। दिल्ली को सरकार चलाने के तजुर्बे वाले लोग चाहिए। किरण बेदी में वह अनुभव है जो दिल्ली को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S
    Satyendra Singh
    Jan 31, 2015 at 8:44 pm
    मोदीजी डॉन हैं, आवारा पति हैं अंदमान उनका वो a. Shah भी जाने को हैं दिल्ल्लीइल्वल जान चुके मोदी मुह्यमंत्री कबाड़ी हैं. राहुल अ केजरीवाल बनेंगे कलको प्रधानमंत्री . मोदी और अमित शाह आसाराम बापू के bhajan मेंएक्सपेर्ट हैं. ये कॉमेंट जनसत्ता बी छापने को सयद जाएगी डर
    Reply
सबरंग