ताज़ा खबर
 

लोकपाल के अवलोकन पर कानूनी राय ले रहे हैं हरभजन

हरभजन खेल पोशाक निर्माता कंपनी ‘भज्जी स्पोर्ट्स’ से जुड़े हैं जो घरेलू टीमों को किट मुहैया कराती है।
Author नई दिल्ली | February 18, 2016 23:36 pm
सकलैन ने कहा, ‘‘हरभजन के साथ भारतीय क्रिकेट बोर्ड और टीम प्रबंधन का बर्ताव बहुत अच्छा नहीं है। वह विश्वस्तरीय गेंदबाज था और अब भी विश्वस्तरीय गेंदबाज है। (फाइल फोटो)

सीनियर आफ स्पिनर हरभजन सिंह ने गुरुवार कहा कि वह बीसीसीआइ लोकपाल न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) एपी शाह के इस अवलोकन पर कानूनी सलाह ले रहे हैं कि इस गेंदबाज को खेल पोशाक निर्माता कंपनी ‘भज्जी स्पोर्ट्स’ से खुद को अलग कर देना चाहिए जो घरेलू टीमों को किट मुहैया कराती है। शाह कार्यकर्ता नीरज गुंडे द्वारा उठाए गए हितों के टकराव मामले की जांच कर रहे थे। नीरज ने लोकपाल कार्यालय में इस तरह की कई शिकायतें दर्ज करार्इं हैं।

हरभजन ने कहा कि मुझे बोर्ड से ईमेल पर जानकारी मिली है। अभी मैं यही कह सकता हूं कि मैं अपने कानूनी सलाहकार से चर्चा कर रहा हूं। मैं सलाह के अनुरूप काम करूंगा। कंपनी ‘भज्जी स्पोर्ट्स’ की मालिक अवतार कौर हैं जो इस क्रिकेटर की मां हैं। जब बीसीसीआइ के सीनियर अधिकारी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यदि हरभजन मालिक नहीं हैं तो फिर कोई भी कंपनी चला सकता है। उन्होंने कहा कि अगर हरभजन का नाम किसी भी तरह से कंपनी के मालिकों में शामिल नहीं है तो फिर उस पर हितों का टकराव का मामला नहीं बनता है।

हालांकि पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली को बड़ी राहत मिली है क्योंकि शाह ने घोषणा की है कि एटलेटिको डि कोलकाता के मालिकों का पुणे आईपीएल टीम खरीदने के बाद इस पूर्व बल्लेबाज का इस फुटबाल फें्र्रंचाइजी टीम का सह मालिक होना हितों के टकराव के दायरे में नहीं आता है। शाह ने बुधवार को अपने आदेश में कहा कि लोकपाल का मानना है कि गांगुली के खिलाफ हितों का टकराव का मामला नहीं बनता है और इसलिए इस मामले का निपटारा कर दिया गया है। गांगुली ने अपने जवाब में बताया था कि उनका आइपीएल फ्रेंचाइजी राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के साथ कोई व्यावसायिक संबंध नहीं है हालांकि उनके एटलेटिको डि कोलकाता में नगण्य हिस्सेदारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.