ताज़ा खबर
 

ind vs aus: दूसरे मैच में भी बैट‍िंग नहीं कर पाए युवराज तो TWITTER पर उड़ा डैडी योगराज का मजाक, देखें कैसे

योगराज यह कहते रहे हैं क‍ि उनके बेटे के टीम में न चुने जाने के पीछे धोनी का हाथ है। ऐसे में जब युवराज का टीम इंडिया के टी20 टीम में सेलेक्‍शन हो गया है, इसके बावजूद भी जब उनके बल्‍लेबाजी का नंबर नहीं आया तो सोशल मीड‍िया यूजर्स ने योगराज को आड़े हाथ लिया।
Author नई द‍िल्‍ली | January 29, 2016 18:23 pm
युवराज स‍िंह को दूसरे टी20 मैच में भी मौका न मिलने पर एक सोशल मीड‍िया यूजर ने कुछ यूं चुटकी ली। (TWITTER)

ऑस्‍ट्रेलिया के खि‍लाफ शुक्रवार को खेले गए दूसरे टी20 मैच में भी युवराज स‍िंह को बल्‍लेबाजी का मौका नहीं म‍िला। हालांकि, इस बात को लेकर फैंस ने सोशल मीडिया पर युवराज के पिता योगराज स‍िंह का मजाक बनाना शुरू कर द‍िया। लोगों ने ऐसे-एेसे लतीफे और कमेंट्स शेयर क‍िए क‍ि योगराज टि्वटर के टॉप ट्रेन्‍ड‍िंग टॉपिक में शाम‍िल हो गए। इसकी वजह योगराज का धोनी पर बार बार न‍िशाना साधना है। योगराज यह कहते रहे हैं क‍ि उनके बेटे के टीम में न चुने जाने के पीछे धोनी का हाथ है। ऐसे में जब युवराज का टीम इंडिया के टी20 टीम में सेलेक्‍शन हो गया है, इसके बावजूद भी जब उनकी बल्‍लेबाजी का नंबर नहीं आया तो सोशल मीड‍िया यूजर्स ने इसी बात को लेकर योगराज को आड़े हाथ लिया। यूजर्स का कहना था क‍ि अब युवराज के बल्‍लेबाजी का नंबर न आने के लिए भी योगराज धोनी को ही दोष देंगे।

READ ALSO: मेलबर्न T20 में भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया को 27 रन धूल चटाई, सीरीज पर जमाया कब्‍जा

मैच में क्‍या हुआ
एड‍िलेड में मंगलवार को हुए पहले टी20 मैच में भारत 37 रनों से जीता था। टीम इंड‍िया ने 20 ओवर में तीन व‍िकेट गंवाकर 188 रन बनाए। इस मैच में धोनी अपने बैट‍िंग ऑर्डर में बदलाव करते हुए युवराज से पहले उतरे। वहीं, शुक्रवार के मैच में कोहली और शर्मा की हाफ सेंचुरी के बाद धोनी नंबर चार पर बल्‍लेबाजी करने उतरे। इसकी वजह से, दोनों ही मैचों में युवराज को बल्‍लेबाजी का मौका नहीं मिला। हालांक‍ि, युवराज ने इस मैच में एक व‍िकेट हास‍िल किया। सोशल मीडिया यूजर्स ने इस बात को लेकर भी योगराज का मजाक उड़ाया।

After Dhoni decided to not give Yuvi chance to bat , Yuvi be like mere papa ko bulao #IndvsAus yograj Singh pic.twitter.com/AIScYMz2ku

— Manoj (@___manoj___) January 29, 2016

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.