ताज़ा खबर
 

इनके अच्छे दिन

इसमें कोई शक नहीं कि नरेंद्र मोदी सहित भाजपा के तमाम नेताओं के बुरे दिन बीत गए! जिस तरह एक साल बीत गया उसी प्रकार बाकी चार साल भी भाषणों और आश्वासनों में बीत ही जाएंगे और आम जनमानस करता रह जाएगा अच्छे दिनों का इंतजार! जन-धन और बीमा योजनाओं का सरकार कर रही है […]
Author May 27, 2015 10:26 am

इसमें कोई शक नहीं कि नरेंद्र मोदी सहित भाजपा के तमाम नेताओं के बुरे दिन बीत गए! जिस तरह एक साल बीत गया उसी प्रकार बाकी चार साल भी भाषणों और आश्वासनों में बीत ही जाएंगे और आम जनमानस करता रह जाएगा अच्छे दिनों का इंतजार! जन-धन और बीमा योजनाओं का सरकार कर रही है दुष्प्रचार, उस सबका सरकार से नहीं है कोई सरोकार।

आपको दोनों के लिए प्रीमियम स्वयं जमा करना है। वैसे पेंशन के लिए तो पहले की योजना के मुताबिक किसी भी डाकघर या बैंक में संचयी खाता खोल लीजिए और मोदी की योजना से भी अधिक पेंशन लाभ पाइए। सवाल यह भी है कि महंगाई के इस दौर में 500 या 1000 रुपए से बीस साल बाद क्या होगा?
यश वीर आर्य, नई दिल्ली

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें- http://www.facebook.com/Jansatta

ट्विटर पेज पर फॉलो करने के लिए क्लिक करें- http://twitter.com/Jansatta

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. दिनेश
    May 27, 2015 at 11:21 pm
    गरीब किसान से जमीन छिन जाएगी . उसके बेटे पूंजीपतियों के कारखानों में नौकर हो जाएंगे. धन्ना सेठ और अमीर होते जाएंगे. किसान खुद्कुशी करते रहेंगे. वेस्टर्न स्टाइल के रोड मैपनुमा बुल्डोजर भारतीय जमीन पर जबरदस्ती चलते जाएंगे. सारी दौलत और जमीन सिमट कर चंद हाथों में आ जाएगी. और फिर इंसान के अहंकार और लालच को औकात बताने के लिए कुदरत को करना पड़ेगा हस्तक्षेप.
    (0)(0)
    Reply
    1. V
      VIJAY LODHA
      May 28, 2015 at 11:30 am
      छत्तीसगढ़ में भी राजधानी में ही जनता पेयजल की कमी के संकट से जूझ रही है.अच्छे दिन चाहे कभी भी आएं, फ़िलहाल तो बुनियादी जरूरते पूरी होने से ही जनता खुश हो जाएगी..
      (0)(0)
      Reply