ताज़ा खबर
 

चौपाल : एक साथ चुनाव

चुनाव आयोग ने देश में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने के बारे में कानून मंत्रालय को पत्र लिख कर सहमति जता दी है।
Author नई दिल्ली | July 5, 2016 01:19 am
इलेक्शन कमीशन

चुनाव आयोग ने देश में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने के बारे में कानून मंत्रालय को पत्र लिख कर सहमति जता दी है। यह फैसला देश के लिए अच्छा होगा क्योंकि अलग-अलग चुनाव से पार्टियों और सरकार, दोनों को वित्तीय नुकसान होता है और बार-बार आचार संहिता लागू करने से विकास कार्यों में भी रुकावट पैदा होती है। 1952 में जहां अठारह करोड़ से थोड़े कम मतदाता थे वहीं 2014 में यह आंकड़ा इक्यासी करोड़ से ज्यादा हो गया। मतदाताओं की लगातार बढ़ती संख्या के कारण अब लोकसभा और विधानसभा के चुनाव कई चरणों में कराए जाते हैं। इससे राजनीतिक दलों को प्रचार पर ज्यादा खर्च करना पड़ता है और चुनाव आयोग को भी हर बार नए सिरे से तमाम चुनावी इंतजाम करने पड़ते हैं। अगर देश में आम चुनावों के साथ ही राज्यों के चुनाव कराए जाते हैं तो इससे छोटी पार्टियों पर वित्तीय बोझ घटेगा।

सूरज कुमार बैरवा, सीतापुरा, जयपुर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग