December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

क्या बचेगा

जल प्रदूषण और संसाधनों के प्रति हम आखिर क्यों अनजान बने रहना चाहते हैं।

Author November 9, 2016 06:11 am
यमुना नदी

वर्तमान में लोगों के भीतर संवेदनहीनता का भाव इस कदर बढ़ रहा है कि वे खुद ही भविष्य के खतरों की जद में डाल रहे हैं, लेकिन उन्हें पता चल पा रहा है। जल प्रदूषण और संसाधनों के प्रति हम आखिर क्यों अनजान बने रहना चाहते हैं। क्या इतनी संवेदना भी हम में नहीं है कि जिन चीजों की आवश्यकता है, वे दूसरों की जरूरत भी हो सकती हैं, यह समझ सकें! यह हमारा दायित्व है कि हम न सिर्फ उन्हें कागज के टुकड़े देकर कहें कि यह हमारी विरासत है, बल्कि विरासत को बचाने के भी जतन करें। स्वच्छ जल और वायु ही किसी भी चीज को बचाने के सबसे अहम स्रोत हो सकते हैं।
’प्रीति देवी, दिल्ली विवि

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 9, 2016 6:11 am

सबरंग