ताज़ा खबर
 

चौपाल: दो नावों पर, बेबस संहिता

कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले नारा दिया था ‘27 साल यूपी बेहाल’ वह भी समाजवादी पार्टी के खिलाफ।
Author February 1, 2017 02:46 am
साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी और अखिलेश यादव। ( Photo Source: PTI)

दो नावों पर

कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले नारा दिया था ‘27 साल यूपी बेहाल’ वह भी समाजवादी पार्टी के खिलाफ। लेकिन अचानक सपा के साथ गठबंधन कर लिया, सिर्फ उसके सत्ता में शामिल होने की वजह से। अब राहुल गांधी को अचानक मायावती के विचारों से भी परहेज नहीं रहा है जैसा उन्होंने अपने बयानों में संकेत दे दिया कि कांग्रेस अपना इक्का दोनों तरफ खोल कर रखना चाहती है, जिस भी पार्टी की सीटें ज्यादा आएंगी, वह उसी तरफ चली जाएगी। लगता है, कांग्रेस को खुद पर या अपने गठबंधन पर पूरा भरोसा नहीं है कि वह चुनाव में जीत हासिल कर सकेगा इसीलिए दो नावों पर सवार है।
’प्रदीप कुमार तिवारी, ग्रेटर नोएडा

बेबस संहिता

राजनीति के अखाड़े में विरोधियों की कमजोर नसों को दबाना एक पुराना खेल है, लेकिन आजकल नेताओं की जुबान से ऐसे बोल झड़ रहे हैं जो विवादों की भद्दी सियासत शुरूकर देते हैं। व्यक्तिगत स्तर पर की जा रही अशोभनीय टिप्पणियों और अमर्यादित भाषा से पता चलता है कि हमारे नेता किस हद तक जा सकते हैं! निर्वाचन आयोग आदर्श आचार संहिता लागू कर इस पर रोक लगा सकता है लेकिन ऐसा भी नहीं हो पा रहा है। लगता है कि आदर्श आचार संहिता एक बेबस संहिता है जो सब कुछ देख कर भी मौन साधे रहती है!
सभी दलों को इस मुद्दे पर गंभीरता से चिंतन करने की आवश्यकता है। इससे देश का सामाजिक-राजनीतिक वातावरण बहुत दूषित हो रहा है!
’जफर अहमद, रामपुर डेहरू, मधेपुरा

शिवपाल यादव करेंगे नई पार्टी का निर्माण; जिन उम्मीदवारों को सपा का टिकट नहीं मिला उनके लिए करेंगे प्रचार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.