ताज़ा खबर
 

चौपाल: अपना दामन

राहुल गांधी द्वारा मोदी पर लगाया गया ‘खून की दलाली’ का छिछला आरोप खुद कांग्रेस पर ही सत्य उतरता है।
Author October 13, 2016 04:10 am
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। ( फाइल फोटो -पीटीआई)

राहुल गांधी द्वारा मोदी पर लगाया गया ‘खून की दलाली’ का छिछला आरोप खुद कांग्रेस पर ही सत्य उतरता है। 1971 में भारतीय सेना ने युद्ध जीत कर पाकिस्तान के दो टुकड़े कर दिए। उसके बाद 1972 के प्रारंभ में देश में विधानसभा चुनाव थे। कांग्रेस ने तमाम अखबारों और र्होडिंगों के जरिए इंदिरा गांधी को युद्ध-विजेता और दुर्गा के रूप में प्रचारित किया। हालांकि 93 हजार पाक युद्ध-बंदी और पश्चिम में 12,500 वर्ग किलोमीटर भूमि हाथ में होने के बावजूद इंदिराजी न तो पाक-अधिकृत कश्मीर वापस ले सकीं, न पाक की युद्ध-मशीनरी नष्ट करने की शपथ पूरी कर सकीं, न 32 लाख नागरिक हत्याओं और 12 लाख बलात्कारों के दोषी पाक फौजियों पर मुकदमे चला सकीं।

लेकिन उन्होंने बांग्लादेश-निर्माण का पूरा श्रेय लूट कर तमाम विधानसभाओं में भारी बहुमत हासिल कर लिया। 1961 में सैनिक कार्रवाई द्वारा गोवा-दमण-दीव को पुर्तगाल से मुक्त करा कर जवाहरलाल नेहरू ने भी 1962 के आम चुनावों में इसका खूब प्रचार किया था। उन दिनों सिंधु जल समझौता व बेरूबारी पाकिस्तान को उपहार में दे देने की वजह से देश में उनकी थू-थू हुई थी। पर गोवा-मुक्ति के प्रचार के सहारे वे चुनावी वैतरणी सरलता से पार कर गए। मोदी ने तो उस किस्म व स्तर का कोई प्रचार किया भी नहीं। फिर भी राहुल आरोप लगाते हैं!
’अजय मित्तल, मेरठ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग