December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

चौपाल: कुछ तो हुआ

सरकार ने इतना कड़ा जवाब दिया कि कान कड़कड़ा गए। सरकार ने बोला कि कालेधन पर रोक लगेगी। अब सोचने वाली बात है 1000 का नोट बड़ा या 2000 का! लेकिन खैर... कुछ तो हो रहा है न देश में!

Author November 21, 2016 03:16 am
मोदी सरकार ने 8 नवंबर को नोटबंदी का फैसला लिया था।

अब कुछ बंद ही हुआ, लेकिन कुछ हुआ तो देश में…! बड़ा सुस्त-सा लग रहा था देश! सरकार ने कठोर कदम उठाया, वे इतने कठोर थे कि पैर हमारे दर्द होने लगे, एटीएम की लाइन में खड़े-खड़े। जैसे ही खबर आई कि 500 और 1000 के नोट बंद, हमारे नेताओं ने कहा कि इससे अमीरों की नींद उड़ गई है। लेकिन मुझे रोज सुबह से ही हर एटीएम में गरीब ही लाइन में मिला। अब पता नही किसकी नींद उड़ी!

अब नोट बंद, सबके सवाल शुरू। सरकार ने इतना कड़ा जवाब दिया कि कान कड़कड़ा गए। सरकार ने बोला कि कालेधन पर रोक लगेगी। अब सोचने वाली बात है 1000 का नोट बड़ा या 2000 का! लेकिन खैर… कुछ तो हो रहा है न देश में! अब कालाधन किसके पास है? अंबानी ने ‘जियो’ में लगा दिया, रेड्डी ने शादी में लगा दिया, माल्या देश से लेकर निकल गया। अब तो कर्ज माफी भी चल रही है माल्या की। जो सूची आपके पास है, उसको आप दिखा नहीं रहे। न करना भी बहुत कुछ करने के बराबर। आज एक परंपरा टूटी कि दूल्हा शादी से पहले घर से नहीं निकलता था, आज वह एटीएम की लाइन में खड़ा है। बेटी की शादी है तो सरकार ने कुछ रियायत दी है इसमें। लेकिन लाइन में लगना होगा, क्योंकि आप आम आदमी हैं।
’चंदा, दिल्ली विश्वविद्यालय

“सरकार को मीडिया के काम में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए”: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 21, 2016 3:11 am

सबरंग