ताज़ा खबर
 

चौपाल: साहसिक कदम

यदि आमजन कुछ दिन अपनी अनावश्यक जरूरतों पर अल्प विराम लगा लें तो इस परेशानी का आसानी से हल हो जाएगा।
Author November 14, 2016 03:09 am
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

पांच सौ और एक हजार रुपए के नोटों पर पाबंदी लगा कर मोदी सरकार ने काले धन पर जबर्दस्त लक्षित हमला किया है जो कुछेक लोगों को नागवार गुजरा है। ये वे हैं जिन्होंने कर-चोरी करके काला धन जमा कर रखा है। आमजन को भी इससे एक-दो सप्ताह के लिए परेशानी होगी। लेकिन महज इस वजह से एक राष्ट्र-हितैषी, ऐतिहासिक और साहसिक फैसले को गलत करार देना अनुचित होगा। आम आदमी को सोचना होगा कि नोटों पर पाबंदी के कारण क्या उसे सियाचिन के जानलेवा बर्फीले पहाड़ों में तैनात फौजी के कष्टों से अधिक परेशानी हुई? क्या रेगिस्तान की लोहा पिघला देने वाली गर्मी में देश की सुरक्षा करने वाले जवानों से अधिक परेशानी हुई?  केवल चंद दिनों के लिए कुछ जरूरतों को कम कर देने से कोई भारी-भरकम परेशानी तो नहीं होगी। यदि आमजन कुछ दिन अपनी अनावश्यक जरूरतों पर अल्प विराम लगा लें तो इस परेशानी का आसानी से हल हो जाएगा।
’समरथ पाटीदार, रतलाम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग