December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

चौपाल: सुबह होगी

तनाव में रहने वाले लोगों को पता नहीं होता कि उनके भीतर ढेर सारे गुण मौजूद हैं।

Author October 27, 2016 06:04 am
सुख।

दुनिया में रोने वालों का हमेशा कोई साथ नहीं देता। जमाना चलता है तो हंसने वालों के साथ, इसलिए खोजने की जरूरत है- खुशी का खजाना। यह हम सबके अंदर ही छिपा होता है। तनाव में वे लोग होते हैं, जिनकी जिंदगी का कोई लक्ष्य नहीं होता या जो केवल अपने में कमियां देखते रहते हैं। तनाव में रहने वाले लोगों को पता नहीं होता कि उनके भीतर ढेर सारे गुण मौजूद हैं। कितनी भी विषम परिस्थिति क्यों न आए, निराश न हों। याद रखने की जरूरत है कि रात कितनी भी अंधेरी क्यों न हो, सुबह तो होगी ही।
’संजीव कुमार, राजौंद

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 27, 2016 6:04 am

सबरंग