संपादकीय

  • कठघरे में जांच

    करीब दो साल पहले मध्यप्रदेश में जब बहुचर्चित व्यापमं घोटाला यानी व्यावसायिक परीक्षा मंडल में भ्रष्टाचार सामने आया, तभी कायदे से इस मसले की जांच...

  • एक और सपना

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का शुभारंभ कर आम लोगों की रोजमर्रा की दुश्वारियां दूर करने का नया सपना दिखाया है। इस कार्यक्रम के जरिए देश भर...

  • जेल में सुरंग

    सुरक्षा के मामले में काफी चाक-चौबंद मानी जाने वाली तिहाड़ जेल से दो कैदियों के भाग निकलने की घटना पर स्वाभाविक ही प्रशासन की चिंता...

  • यूनान का दुश्चक्र

    पूरी दुनिया के माथे पर यूनान के वित्तीय संकट ने चिंता की लकीरें खींच दी हैं। तमाम देशों के शेयर बाजारों पर इसका असर दिखा है, भारत में भी।...

  • गरीबी का दायरा

    भारत की आबादी में गरीबों का अनुपात कितना है इसे लेकर हमेशा विवाद रहा है। मतभेद होना स्वाभाविक भी है, क्योंकि आखिरकार सब कुछ इस पर निर्भर करता है...

  • कमलेश

    उनमें कभी इस बात की उकताहट नहीं देखी गई कि अपनी रचनात्मक उपस्थिति से कोई हलचल पैदा करें। किसी वैचारिक आग्रह के चलते उथल-पुथल मचाने...

  • ममता की हुंकार, हम 2016 में दोबारा जीतेंगे

    पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोकतंत्र में आखिरी फैसला लोगों का होने की बात का जिक्र करते हुए आज कहा कि उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस पिछले चार...

  • आप का बजट

    आमतौर पर राज्यों के बजट को लेकर ज्यादा उत्सुकता नहीं होती। फिर भी दिल्ली सरकार के बजट ने लोगों का ध्यान खींचा है तो इसके कई कारण हैं। उपमुख्यमंत्री...

  • सालियन और सरकार

    मालेगांव विस्फोट मामले की विशेष सरकारी वकील रोहिणी सालियन के आरोप ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी और सरकार को बचाव की मुद्रा में ला दिया है।...

  • जोड़ में दरार

    बिहार में विधानसभा चुनाव की रणभेरी बज चुकी है। चुनाव को लगभग तीन महीने ही रह गए हैं। लेकिन बिहार को फतह करने का सपना देख रही भाजपा के...