ताज़ा ख़बर

 

संपादकीय

आरक्षण की आग

गुजरात में आरक्षण की खातिर पटेल समुदाय के आंदोलन के बाद हुई हिंसा के लिए भीड़ के व्यवहार के साथ-साथ सरकार का अगंभीर रवैया...

दरकते रिश्ते

शीना बोरा हत्याकांड को लेकर हुए ताजा खुलासों के बाद स्वाभाविक ही एक बार फिर मानवीय रिश्तों की दरकती जमीन पर चिंता जताई जाने...

बाधा का संचार

संचार के आधुनिक साधनों में संवाद के लिए मोबाइल फोन पर लोगों की निर्भरता आज जगजाहिर है। वहीं मोबाइल कंपनियों ने अच्छी सेवा देने...

जनगणना के संकेत

देश के महा पंजीयक ने मंगलवार को 2011 में हुई जनगणना के धार्मिक आंकड़े जारी कर दिए। स्वाभाविक ही यह सवाल उठा है कि...

हादसे का सफर

पिछले कुछ समय से अलग-अलग वजहों से जिस तरह रेल हादसों और उनमें लोगों की जान जाने की घटनाएं सामने आ रही हैं, वह...

चिंता का बाजार

वित्तमंत्री से लेकर मुख्य आर्थिक सलाहकार तक पिछले दिनों बराबर यह दोहराते रहे हैं कि देश की अर्थव्यवस्था को लेकर चिंता करने की कोई...

फिर गतिरोध

भारत पाकिस्तान के बीच शांति वार्ता की पहल एक बार फिर तनातनी की भेंट चढ़ गई। दोनों देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक...

फैसले का सबक

पंचायतों और स्थानीय निकायों के चुनाव में मतदान को अनिवार्य बनाने की गुजरात सरकार की अधिसूचना पर हाइकोर्ट ने रोक लगा दी। राज्य सरकार...

दूरंदेशी से दूर

गुरुवार की सुबह जिस तरह हुर्रियत नेताओं की नजरबंदी हुई और दो घंटे के भीतर ही उन्हें छोड़ दिया गया उससे अच्छा संदेश नहीं...

मनमानी की रफ्तार

बढ़ते सड़क हादसों के मद्देनजर कुछ समय से सर्वोच्च न्यायालय ने उचित ही सख्त रुख अख्तियार किया है। दस दिन पहले उसने केंद्र सरकार...

त्रासदी और फैसला

उपहार सिनेमा अग्निकांड के मामले में आए सर्वोच्च न्यायालय के फैसले ने पीड़ितों को मायूस किया है। उन्हें उम्मीद थी कि अगर न्यायालय दोषियों...

परीक्षा का प्रश्न

सरकार एक बार फिर स्कूली शिक्षा प्रणाली में बदलाव करना चाहती है। शिक्षा से संबंधित केंद्रीय सलाहकार बोर्ड की बैठक में आठवीं कक्षा तक...

अड़चन का राजनय

तीन दिन बाद भारत और पाकिस्तान के सुरक्षा सलाहकारों के बीच आतंकवाद के मसले पर बातचीत होनी है। मगर एक बार फिर पाकिस्तान की...

मनमानी के वाहन

दिल्ली में क्लस्टर बस की चपेट में आने से स्कूटी पर सवार दो किशोरों के गंभीर रूप से घायल होने की घटना ने सड़क...

अमीरात से नई शुरुआत

आतंकवाद के खिलाफ भारत और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) मिल कर काम करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए यह सबसे बड़ी उपलब्धि है।