चौपाल

  • बेतुके फरमान

    आश्चर्य है कि जिस सैद्धांतिक बिंदु पर क्रिसमस के दिन ‘सुशासन दिवस’ मनाने के कथित आदेशों की आहटों का संसद तक में पुरजोर विरोध किया...

  • आतंक का सिरा

    पिछले दिनों उत्तर-पश्चिमी पाकिस्तान के पेशावर शहर में सेना द्वारा संचालित एक स्कूल में भारी हथियारों से लैस अरबी-भाषी तालिबानी आत्मघाती हमलावरों ने स्कूल में...

  • भस्मासुर के हाथ

    धर्म जो सदाचार और नैतिक बंधनों को धारण करने की शिक्षा-दीक्षा का हेतु है, सतभावी जागरूक प्रहरियों के अभाव में जड़ता और अंधता का शिकार...

  • पेशावर का सबक

    सिडनी की घटना को वहां के सुरक्षा तंत्र ने काफी होशियारी से संभाला। लेकिन उसके बाद पेशावर की घटना ने दुनिया के लोगों को हिला...

  • अशांति के मंच

    दुनिया में अपना आतंक खड़ा करने के लिए आतंकवादी आक्रमण, डराना-धमकाना आदि के माध्यम से हमेशा सक्रिय रहते हैं। इसके लिए वे जो माध्यम संभव...

  • आतंक का दायरा

    इस साल का सोलह दिसंबर विश्व इतिहास के एक सबसे शर्मनाक और दुखद दिनों में से एक माना जाएगा। बर्बरता और वहशीपन का जो चेहरा...

  • समाज का चेहरा

    जिस देश में नारी की पूजा होने के दावे दंभ के साथ किए जाते रहे हैं, वहीं आज महिलाओं को लगभग रोज छेड़खानी, अश्लीलता, बलात्कार,...

  • ईमानदारी का मोल

    संपादकीय ‘ईमानदारी की मिसाल’ (9 दिसंबर) पढ़ा। यह आज की संरचना में एक बड़ी परिघटना है। आए दिन घोटाले और भ्रष्टाचार की कहानी सामने आती...

  • राजनीतिक समीकरण

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जम्मू-कश्मीर की दोनों चुनावी रैलियां: एक श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में और दूसरी राया मोड़ जम्मू में सफल ही नहीं, बल्कि...

  • सितारा की याद

    सितारा देवी भारतीय संगीत विद्या की एक ऐसी सितारा थीं, जिनके न होने से एक बड़ा खालीपन महसूस हो रहा है। सिर्फ कथक ही नहीं,...