ताज़ा खबर
 

4.8 अरब डॉलर में बिकेगी Yahoo, खरीदेगी अमेरिकी टेलीकॉम कंपनी Verizon

verizon दुनिया की दिग्गज सर्च इंजन कंपनी रही याहू का इस्तेमाल वर्ल्ड में तेजी से बढ़ते इंटरनेट बिजनेस के लिए करेगी।
दुनिया इंटरनेट की एबीसीडी सिखाने वाले याहू की शुरुआत 1994 में हुई थी।

कभी इंटरनेट की दिग्गज कंपनी रही याहू (Yahoo) को अमेरिका की दूरसंचार कंपनी वेराइजन खरीदने जा रही है। वेराइजन ने घोषणा की है कि यह डील 4.89 बिलियन डॉलर (करीब 33,574 करोड़ रुपए) में होगी। सोमवार को होने वाली यह डील दो साल में दूसरी बार है, जब अमेरिका की इस दिग्गज दूरसंचार कंपनी ने इंटरनेट से जुड़ी कंपनी को खरीदा हो। इससे पहले वेराइजन ने पिछले साल ही 4.4 अरब डॉलर में एओएल को खरीदा था।

वेराइजन याहू के एडवरटाइजिंग टूल का इस्तेमाल दुनिया में तेजी से बढ़ते इंटरनेट बिजनेस के लिए करेगा। वेराइजन के लिए सर्च इंजन, ई-मेल, मैसेंजर आदि भी मददगार साबित होंगे। दुनिया इंटरनेट की एबीसीडी सिखाने वाले याहू की शुरुआत 1994 में स्टेनफोर्ड कॉलेज स्टूडेंट जेरी येंग और डेविड फिलो ने की थी।

आपको बता दें लगभग 5 अरब में बिकी याहू ने 2008 में माइक्रोसॉफ्ट की 44 बिलियन डॉलर की डील ठुकरा दी थी। वर्तमान में गूगल, फेसबुक इंक, ऐमजॉन और अन्‍य नई कंपनियों से याहू को कड़ी टक्‍कर मिल रही थी और याहू इस प्रतिस्‍पर्धा में काफी पिछड़ गया था। वेराइजन ने बताया कि याहू के कोर इंटरनेट बिजनेस को खरीदने से उसे ग्लोबल मोबाइल मीडिया कंपनी बनने में मदद मिलेगी, क्योंकि इसपर हर महीने 1 अरब से भी ज्यादा एक्टिव यूजर्स हैं।

Read More: बाबा रामदेव की यूनिवर्सिटी में चलेंगी योग और संस्‍कृत की क्‍लासेज, ₹50,000 की नौकरी का वादा

खरीद प्रक्रिया संपन्न होने पर कंपनी महज 15 प्रतिशत हिस्‍सेदारी ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लिमिटेड और 35.5 प्रतिशत हिस्‍सेदारी याहू जापान कारपोरेशन में बची है। याहू के 37 अरब डॉलर की मार्केट वेल्यू में इन्हीं दोनों का ज्यादातर हिस्सा बचा है।

Read More:रेनो ने पेश किया लॉजी का नया संस्करण पेश किया, कीमत 10.4 लाख रुपए तक

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.