ताज़ा खबर
 

देशभर के शेयर बाजारों में आई तेजी, सेंसेक्‍स 300 अंक तो निफ्टी ने 94 अंकों की लगाई छलांग

जियोजीत फाइनेंशियल सविर्सेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, बाजार ने सकारात्मक रूख के नई कर व्यवस्था का स्वागत किया। पिछले सप्ताह अंतिम दो दिन में निवेशकों ने निवेश को लेकर थोड़ी झिझक दिखायी थी।
Author July 3, 2017 19:55 pm
गुरुवार को सेंसेक्स में उछाल देखने को मिला।

देश में जीएसटी लागू होने के बाद शेयर बाजारों में आज जोरदार तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स 300 अंक उछलकर 31,222 अंक पर पहुंच गया। रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों तथा वाहनों के शेयरों में तेजी से बाजार में उछाल आया। पिछले एक महीने में एक दिन में यह सबसे बड़ी तेजी है। चौतरफा लिवाली से बीएसई सेंसेक्स एक सप्ताह के उच्च स्तर 31,221.62 अंक पर पहुंच गया। एनएसई निफ्टी 94 अंक की तेजी के साथ 9,615 अंक पर पहुंच गया। ऐतिहासिक कर सुधार जीएसटी के लागू होने से व्यापार धारणा मजबूत हुई। नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था से देश की अर्थव्यवस्था को गति मिलने की उम्मीद के साथ निवेशकों ने जमकर लिवाली की। जियोजीत फाइनेंशियल सविर्सेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, बाजार ने सकारात्मक रूख के नई कर व्यवस्था का स्वागत किया। पिछले सप्ताह अंतिम दो दिन में निवेशकों ने निवेश को लेकर थोड़ी झिझक दिखायी थी। पिछले सप्ताह बाजार सुदृढ़ हुआ। कम कर के प्रभाव के कारण खर्च में वृद्धि और बिक्री में बढ़ोतरी की संभावना है जिससे भविष्य में कमाई की संभावना बढ़ेगी। मूडीज के बयान से भी निवेशकों में उत्साह आया। मूडीज ने कहा है कि जीएसटी के क्रियान्वयन से जीडीपी में अच्छी वृद्धि होगी और कर राजस्व बढ़ेगा।

विदेशी संस्थागत निवेशकों के पूंजी प्रवाह तथा वैश्विक सकारात्मक रूख से भी बाजार को गति मिली। तीस शेयरों वाला बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स मजबूती के साथ 31,258.33 अंक पर पहुंच गया। बाद में इसमें गिरावट आयी और यह 31,017.11 अंक पर पहुंच गया। पर अंत में यह 300.01 अंक या 0.97 प्रतिशत की बढ़त के साथ 31,221.62 अंक पर बंद हुआ। इससे पहले कारोबार की शुरुआत में यह 31,156.04 अंक पर खुला था। पचास शेयरों वाला निफ्टी भी 94.10 अंक या 0.99 प्रतिशत बढ़कर 9,615 अंक पर बंद हुआ। एक समय यह 9,624 अंक तक चला गया था।

रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों, दूरसंचार, धातु, रीयल्टी तथा वाहन कंपनियों के शेयरों में तेजी दर्ज की गयी। सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में सर्वाधिक लाभ में सिगरेट बनाने वाली कंपनी आईटीसी रही। कंपनी का शेयर 5.70 प्रतिशत प्रतिशत बढ़कर 52 सप्ताह के उच्च स्तर पर पहुंच गया। इसका कारण सिगरेट पर माल एवं सेवा कर :जीएसटी: प्रणाली में कुल कर करीब 5-6 प्रतिशत कम होना है।

एशिया के अन्य बाजारों में जापान, हांगकांग, दक्षिण कोरिया, ताइवान तथा सिंगापुर के बाजारों में तेजी दर्ज की गयी। वहीं यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कोबार में तेजी रही। बीएसई में आईटीसी के अलावा हीरो मोटो कार्प (2.17 प्रतिशत), मारुति (1.96 प्रतिशत), कोल इंडिया (1.95 प्रतिशत), अडाणी पोर्ट (1.55 प्रतिशत) तथा एचयूएल (1.29 प्रतिशत) एचयूएल 1.29 प्रतिशत में तेजी आयी। इसके अलावा जिन अन्य शेयरों में तेजी आयी उसमें एशियन पेंट्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, ओएनजीसी, टाटा मोटर तथा टाटा स्टील शामिल हैं। वहीं दूसरी तरफ एनटीपीसी, कोटक बैक, सिप्ला, सन फार्मा तथा ल्यूपिन में गिरावट दर्ज की गयी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.