ताज़ा खबर
 

ब्राजील में 24 घंटे में ही हटा Whatsapp से बैन, मार्क जकरबर्ग ने जाहिर की खुशी

व्हाट्सएप मैसेंजर ने एक मामले की जांच में सहयोग करने से इनकार करने की वजह से कोर्ट ने इस पर बैन लगाने का आदेश दिया था।
व्हाट्सएप से बैन हटाए जाने के बाद फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने ब्राजील के लोगों का शुक्रिया अदा करके खुशी जाहिर की है।

ब्राजील में व्हाट्सएप पर 72 घंटे के लिए लगाए गए बैन को 24 घंटे के बाद ही हटा दिया गया। 2 मई को ब्राजील की एक अदालत ने पूरे देश में व्हाट्सएप की सभी सेवाओं को स्थगित करने का आदेश दिया था। लेकिन ब्राजील के लोगों के विरोध के बाद अदालत को अपना आदेश वापस लेना पड़ा। बुधवार को अदालत ने व्हाट्सएप पर लगाए गए बैन को हटाने का आदेश जारी किया है। व्हाट्सएप से बैन हटाए जाने के बाद फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने फेसबुक पर पोस्ट करके खुशी जाहिर की।

जकरबर्ग ने लिखा, ‘ब्राजील में व्हाट्सएप फिर से शुरू हो गया है। आपकी आवाज एक बार फिर से सुनी गई।’ जकरबर्ग ने अदालत के इस फैसले का विरोध करने के लिए ब्राजील के लोगों का शुक्रिया भी अदा किया। साथ ही ब्राजील के लोगों को एक इवेंट में शामिल होने का न्योता भी दिया है।

फेसबुक की स्वामित्व वाली मैसेजिंग सर्विस व्हाट्सएप मैसेंजर के इस्तेमाल की जांच में सहयोग करने से इनकार करने की वजह से कोर्ट ने इस पर बैन लगाने का आदेश दिया था। फेसबुक को व्हाट्सएप के उन यूजर्स के नामों का खुलासा करने का आदेश दिया था, जिन्होंने ड्रग्स के बारे में सूचना का आदान-प्रदान किया था, लेकिन फेसबुक ने ऐसा करने से इनकार दिया। इसके बाद फेसबुक को प्रतिदिन 50,000 रीस (14,300 डॉलर) का जुर्माना अदा करने का निर्देश दिया गया।

गौरतलब है कि अब तक व्हाट्सएप के मैसेज सुरक्षा एजेंसियों से लेकर हैकर तक कोई भी इंटरसेप्ट कर सकता था, लेकिन अब मैसेज ऐसे कोड में जाएगा कि कोई नहीं पढ़ पाएगा। अभी तक एप्पल और ब्‍लैकबेरी को ही सबसे सिक्योर माना जाता था। हाल ही में ऐसा मामला अमेरिका में सामने आया था। एप्पल कंपनी ने निजता को प्राथमिकता देते हुए एक कथित आतंकी के आईफोन के डाटा को अमेरिकी सरकार को देने से मना कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.