ताज़ा खबर
 

स्टार्टअप में पहले बेंगलुरु का नाम आता था लेकिन अब जयपुर आगे बढ़ रहा है: वसुंधरा राजे

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि युवाओं की सोच और उनकी ताकत राज्य को आगे बढ़ाता है हम इसी ओर काम कर रहे है।
Author जयपुर | January 9, 2017 18:11 pm
राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे। (पीटीआई फाइल फोटो)

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा है कि स्टार्टअप के क्षेत्र में राज्य तेजी से आगे बढ़ रहा है। मुख्यमंत्री ने सोमवार (9 जनवरी) को जेनपैक्ट में वैश्विक उत्कृष्टता केंद्र का उद्घाटन करने के बाद समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि स्टार्टअप में पहले बेंगलुरु का नाम आता था लेकिन अब तेजी से जयपुर का नाम इससे जुड़ रहा है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में इसमें ओर तेजी आयेगी। स्टार्टअप के लिए सरकार इनक्यूबेटर सेंटर (स्टार्टअप की शुरुआती तैयारियों का केन्द्र) को बढावा दे रही है जिससे स्टार्टअप को गति मिल सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्राथमिकता से इनक्यूबेटर केन्द्रों को बढ़ावा देकर इस क्षेत्र में तेजी लाने का प्रयास कर रही है। युवाओं की सोच और उनकी ताकत राज्य को आगे बढ़ाता है हम इसी ओर काम कर रहे है। कार्यक्रम को सिस्को कम्पनी के कार्यकारी चेयरमैन जॉन थॉमस ने सम्बोधित करते हुए राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा स्टार्टअप और स्मार्ट सुविधाओं के लिए किये जा रहे कार्यो की तारीफ की।

जेनपैक्ट में स्थापित वैश्विक उत्कृष्टता केंद्र में स्मार्ट सुविधाओं का डाटा उपलब्ध होगा। कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातचीत करते हुए वसुंधरा राजे ने कहा कि सिस्को के अनुसार राज्य मार्ग दर्शक के रूप में आगे बढञ सकता है। सिस्को ने मार्गदर्शकों की एक सूची बनाई है। इसमें दुनिया में ऐसे छह शहर हैं जिसके साथ सिस्को ने साझेदारी की है। सिस्को ने जयपुर को चुना है, क्योंकि वो समझता है कि जो काम हम लोगों ने किया है वो आगे चलकर हमारे देश के लिये ही नहीं बल्कि दक्षिण एशिया के लिए मार्गदर्शक बन सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वाईफाई, हॉट स्पॉट और कनेक्टिविटी एक साथ होने से स्मार्ट सिटी बन सकती है। केंद्र सरकार ने प्रदेश के चार शहरों को मदद करने के लिये कहा है। जब 18 महीने में इतनी प्रगति हो सकती है, तो आने वाले समय में स्मार्ट सिटी भी बन जायेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.