ताज़ा खबर
 

‘दस करोड़ आधार संख्या बैंक खातों से जुड़े’

भारतीय विशेष पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने आज कहा कि 10 करोड़ आधार संख्याओं को बैंक खातों से जोड़ा जा चुका है जिससे ये खाताधारक सरकारी योजनाओं के तहत सब्सिडी एवं अन्य लाभ उठा सकेंगे। यूआईडीएआई ने एक बयान में कहा, ‘‘ सरकार के डिजिटल इंडिया मिशन में एक कीर्तिमान स्थापित किया गया है, 10 करोड़ […]
Author December 15, 2014 16:41 pm

भारतीय विशेष पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने आज कहा कि 10 करोड़ आधार संख्याओं को बैंक खातों से जोड़ा जा चुका है जिससे ये खाताधारक सरकारी योजनाओं के तहत सब्सिडी एवं अन्य लाभ उठा सकेंगे।

यूआईडीएआई ने एक बयान में कहा, ‘‘ सरकार के डिजिटल इंडिया मिशन में एक कीर्तिमान स्थापित किया गया है, 10 करोड़ आधार संख्या को बैंक खातों से जोड़ा जा चुका है जिससे ये लोग सरकारी सब्सिडी एवं अन्य भुगतान सीधे अपने बैंक खातों में प्राप्त कर सकेंगे।’’

प्राधिकरण ने कहा कि आधार संख्या और एक बैंक खाते के बीच संबंध स्थापित होने से सरकार के लिए सही लाभार्थियों की पहचान करना और सीधे उनके बैंक खाते में सब्सिडी व अन्य लाभों का भुगतान करना आसान होगा।

उसने कहा कि नौ दिसंबर तक आधार भुगतान सेतु के तहत 7.94 करोड़ लेनदेन दर्ज किए गए हैं। इनके तहत एलपीजी के लिए प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, मनरेगा योजना, जनजाति कल्याण योजनाओं, पेंशन आदि के रूप में 5,151.51 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया। बारह दिसंबर तक 72 करोड़ से अधिक आधार संख्या जारी किए जा चुके थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग