March 24, 2017

ताज़ा खबर

 

अब सोशल मीडिया पोस्‍ट्स का भी होगा बीमा, जानकारी लीक होने पर मिलेगा मुआवजा

भारत में सायबर बीमा का बाजार करीब 1,000 करोड़ रुपए का है।

अमेरिका के बाद भारत इंटरनेट का दूसरा सबसे बड़ा उपयोगकर्ता देश है।

अगर आप सोशल मीडिया साइट्स पर खुलकर भावनाएं प्रकट करने से इसलिए डरते हैं कि कहीं कोई आपके खिलाफ मानहानि का मुकदमा न कर दे, तो आपके लिए अच्‍छी खबर है। बीमा क्षेत्र की निजी कंपनी बजाज ऑलियांज एक ऐसी इंश्‍योरेंसी पॉलिसी पर काम कर रही है जिसमें सोशल मीडिया पर किसी एक्टिविटी से होने वाली तीसरे पक्ष की देनदारी को कवर किया जाएगा। इकॉनमिक टाइम्‍स से बातचीत में बजाज ऑ‍लियांज जनरल इंश्‍योरंस के मैनेजिंग डायरेक्‍टर तपन सिंहल ने कहा, ”अगर किसी व्‍यक्ति को सोशल मीडिया पर किसी पोस्‍ट या बातचीत की वजह से मुकदमा झेलना पड़े और मुआवजा देने की नौबत आए तो सायबर इंश्‍यारेंस इस लागत को कवर करेगा।” कंपनी व्‍यक्तिगत सायबर कवर डिजाइन कर रही है जो कि कॉर्पोरेट्स के लिए वर्तमान में मौजूद सायबर इंश्‍योरेंस कवर जैसा ही होगा। बीमाकर्ता को दिए जाने वाले सायबर कवर में उनकी साख, डाटा सेंध और किसी निजी, वित्‍तीय या संवेदनशील जानकारी चोरी हो जाने के मामले में रक्षा की जाएगी। सिंहल ने कहा कि इंटरनेट यूजर्स की बढ़ती संख्‍या और ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन के बढ़ते चलन की वजह से नए खतरे पैदा हुए हैं। सोशल मीडिया और ई-कॉमर्स वेबसाइट्स पर अच्‍छी-खासी मात्रा में निजी जानकारी मौजूद है।

उमर अब्‍दुल्‍ला के साथ न्‍यू यॉर्क एयरपोर्ट पर हुई पूछताछ, देखें वीडियो: 

व्‍यक्तिगत सायबर इंश्‍योरेंस पॉलिसी के तहत फिशिंग, आइडेंडिटी थेफ्ट, सायबर स्‍टाकिंग, शोषण और बैंक अकाउंट्स की हैकिंग को कवर किया जाएगा। वर्तमान में सायबर इंश्‍योरेंस उत्‍पाद ज्‍यादा आईटी फर्मों, बैंकों, ईकॉमर्स और फार्मास्‍यूटिकल्‍स कंपनियों को बेचे जाते हैं। इसके तहत कॉर्पाेरेट्स को प्राइवेसी और डाटा ब्रीच, नेटवर्क सिक्‍योरिटी दावों और मीडिया देनदारी का कवर मिलता है। बीमा कंपनियां कॉर्पोरेट्स द्वारा सायबर कवर लिए जाने में प्रगति देख रही हैं। भारत में ऐसे उत्‍पाद पिछले तीन साल से चलन में हैं और इंडस्‍ट्री के अनुमान के मुताबिक, ऐसी करीब 500 सक्रिय पॉलिसीज ली गई हैं।

READ ALSO: गलती से गई जान: फर्राटे से सड़क क्रॉस कर रहा था स्‍कूटर सवार, आ गया बस के नीचे, देखें वीडियो

भारत में सायबर बीमा का बाजार करीब 1,000 करोड़ रुपए का है। यह दायित्‍व बाजार के 7 से 10 फीसदी हिस्‍से को कवर करता है। देश में इंटरनेट यूजर्स की संख्‍या तेजी से बढ़ रही है। अमेरिका के बाद भारत इंटरनेट का दूसरा सबसे बड़ा उपयोगकर्ता देश है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 17, 2016 1:58 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग