December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

सैलरी से कितना कटा टीडीएस, अब मोबाइल पर आ जाएगा एसएमएस

यह सुविधा सोमवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली लॉन्च करेंगे, जिसके तहत कर्मचारियों को टैक्स डिडेक्शन की सूचना इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से एसएमएस के जरिए दी जाएगी।

टीडीएस की sms अलर्ट सुविधा के संबंध में सरकार की ओर से जारी किया गया विज्ञापन।

नौकरी पेशा लोगों के लिए केंद्र सरकार की ओर से एक नई सुविधा दी जाने वाली है। इस सुविधा के अनुसार, अब कर्मचारियों की सैलरी से कितना टीडीएस कटा है इसका पता उन्हें अपने मोबाइल पर ही लग जाएगा। यह सुविधा सोमवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली लॉन्च करेंगे, जिसके तहत कर्मचारियों को टैक्स डिडेक्शन की सूचना इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से एसएमएस के जरिए दी जाएगी।

इस संबंध में सरकार की ओर से एक विज्ञापन जारी किया गया है। इसके मुताबिक सोमवार को सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस (CBDT) कार्यालय पर वित्त मंत्री अरुण जेटली वेतनभोगी कर्मचारियों के एसएमएस अलर्ट सुविधा को लॉन्च करेंगे। इस सुविधा में कर्मचारियों को हर तिमाही में टैक्स डिडेक्शन की जानकारी SMS के जरिए दी जाएगी।

ATM/डेबिट कार्ड फ्रॉड से बचना चाहते हैं, तो इन आसान बातों का रखें ध्यान

दरअसल कई बार देखा गया है कि कंपनी कर्मचारी का टैक्‍स देनदारी से ज्‍यादा टैक्स काट लेती है। इस बात का पता कर्मचारी को तब चलता है जब वह पिछले वित्‍त वर्ष के लिए अपना टैक्‍स रिटर्न दाखिल करते हैं। इसी से छूटकारा पाने के लिए इस सुविधा को लाया गया है, ताकि टैक्सपेयर्स और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के बीच विश्वास मजबूत हो पाए। वहीं ऐसे भी कुछ मामले सामने आए हैं जब कंपनी ने सैलरी से टैक्स काट तो लिया, लेकिन उसे जमा नहीं कराया। ऐसे ही एक केस में किंगफिशर के कर्मचारियों को टैक्स जमा ना होने पर डिफॉल्टर घोषित कर दिया गया था।

Read Also: प्रॉपर्टी टैक्स नहीं भरा तो जब्त होगा टीवी, फ्रिज, एसी, सोफा और घर का बाकी सामान

सीबीडीटी की चेयरपर्सन रानी सिंह नायर ने कहा, “इस तरह की धोखाधड़ी से बचने के लिए हमने ऐसा सिस्टम तैयार किया है जहां कर्मचारी को सूचना दी जाएगी कि सैलरी से काटा गया टैक्स हमें मिल गया है या नहीं, साथ ही टैक्स की कितनी राशि कटी है यह भी उसमें होगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 24, 2016 10:11 am

सबरंग