May 26, 2017

ताज़ा खबर

 

ऐप से शॉपिंग में बड़ा खतरा! जोमैटो ने माना- चोरी हुई हमारे 1.70 करोड़ ग्राहकों की जानकारी

कंपनी के ब्लॉग के अनुसार यूजर्स के भुगतान और क्रेडिट या डेबिट कार्ड से जुड़ी जानकारियां सुरक्षित है क्योंकि ये अलग डाटाबेस में थीं।

इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

जोमैटो ने गुरुवार (18 मई) को माना कि उसके 1.7 करोड़ यूजर्स की जानकारी उसके डाटाबेस से हैक हो गयी थी। कंपनी के पास कुल 120 करोड़ यूजर्स हैं। कंपनी के अनुसार यूजर्स के यूजर्सनेम और हैश्ड पासवर्ड की जनाकारी हैकरों ने चुरा ली थी। कंपनी के अनुसार यूजर्स के पासवर्ड एनक्रिप्टेड होते हैं इसलिए उनका दुरुपयोग बहुत मुश्किल है फिर ये बड़ी सुरक्षा चूक थी। कंपनी के अनुसार जोमैटो यूजर्स को तत्काल ही अपना पासवर्ड बदल लेना चाहिए।

जोमैटो ने एक ब्लॉग लिखकर इस हैकिंग की जानकारी सार्वजनिक की है। कंपनी के ब्लॉग के अनुसार यूजर्स के भुगतान और क्रेडिट या डेबिट कार्ड से जुड़ी जानकारियां सुरक्षित हैं क्योंकि ये अलग डाटाबेस में थीं। जोमैटो ने लिखा है कि उसे अब तक ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली है कि हैकिंग से कंपनी के रोजमर्रा के कामकाज पर कोई बुरा असर पड़ा है।

रिपोर्ट के अनुसार जोमैटो से चोरी यूजर्स के डाटा को ऑनलाइन चोर बाजार में बेचा जा रहा है। जोमैटो साल 2015 में भी हैकिंग का शिकार हो चुका है। जोमैटो ने हैकिंग से प्रभावित सभी यूजर्स के पासवर्ड बदल दिए हैं और उन्हें कंपनी के ऐप और वेबसाइट से लॉग आउट कर दिया गया है। कंपनी अपने ऐप और वेबसाइट को ज्यादा सुरक्षा बनाने के लिए नए कदम उठा रही है।  कंपनी ने इस बात की भी आशंका जतायी है कि हैकिंग में कंपनी के अदर के किसी शख्स का हाथ हो।

जोमैटो ने लिखा है, “अगले कुछ दिनों तक हम सक्रिय तौर पर अपने सुरक्षा सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए काम करेंगे। हम अपने यूजर्स डाटाबेस मं मौजूद ज्यादातर डाटा की सुरक्षा को और बढ़ाएंगे। हम आगे से किसी व्यक्ति द्वारा डाटा चोरी के संभावना को खत्म करने के लिए पुष्टिकरण की एक अतिरिक्त प्रक्रिया भी जोड़ेंगे।”

ऑनलाइन कारोबार के बढ़ने के साथ ही हैकिंग बड़ी समस्या के रूप में सामने आती जा रही है। अभी पिछले ही हफ्ते रैनसमवेयर नामक मैलवेयर ने दुनिया के करीब 100 देशों के लाखों कम्प्यूटर को हैक करके उनसे बिटक्वाइन में 300 डॉलर की फिरौती मांगी थी।

वीडियो- ATM/डेबिट कार्ड फ्रॉड से बचना चाहते हैं, तो इन आसान बातों का रखें ध्यान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 18, 2017 11:52 am

  1. No Comments.

सबरंग