April 26, 2017

ताज़ा खबर

 

तीन दिन की छुट्टी के बाद आज खुला शेयर बाजार, सेंसेक्स में 340 अंकों की गिरावट, निफ्टी 8192 पर पहुंचा

पिछले हफ्ते शुक्रवार को जब बाजार बंद हुआ था तो सेंसेक्स की शीर्ष दस में से छह कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में 91,800.9 करोड़ रुपए की गिरावट आई थी

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 500 और 1000 के नोटों को बंद करने का असर शेयर बाजार पर भी दिख रहा है। मंगलवार (15 नवंबर) को जब तीन दिन की छुट्टी के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (सेंसेक्स) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (निफ्टी)  खुले तो दोनों जगहों पर कारोबार में सुस्ती देखी गई। जहां सेंसेक्स 340.15 अंकों की गिरावट के साथ 26,478 पर कारोबार कर रहा है। वहीं निफ्टी में 103.80 की गिरावट दर्ज की गई है। मंगलवार सुबह 9.40 बजे तक निफ्टी 8192 अंकों पर कारोबार कर रहा है। हालांकि मंगलवार को सोने के मूल्य में तेजी देखी गई। सोना के भाव में 209 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। अभी सोने का भाव  29,605 प्रति 10 ग्राम है। वहीं बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया थोड़ा बेहतर हुआ है। मंगलवार सुबह रुपये का विनिमय मूल्य  67.68 रुपये पर रहा जो पिछले कारोबारी दिन की तुलना में 43 पैसे बेहतर है। नोटबंदी की घोषणा के बाद पिछले हफ्ते शुक्रवार को जब बाजार बंद हुआ तो सेंसेक्स की शीर्ष दस में से छह कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में  91,800.9 करोड़ रुपए की गिरावट आई थी। उम्मीद की जा रही है कि नोटबंद का असर अगले कुछ दिनों पर बाजार पर दिखेगा।

मंगलवार को घरेलू बाजारों में शुरुआत तेज गिरावट के साथ हुई है। सेंसेक्स और निफ्टी में एक प्रतिशत से अधिक की गिरावट देखने को मिल रही है। माना जा रहा है कि रुपये में कमजोरी और एफआईआई की बिकवाली से घरेलू बाजारों पर दबाव बना हुआ है। मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी बिकवाली देखने को मिल रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 1.5 फीसदी गिरा है, जबकि निफ्टी का मिडकैप 100 इंडेक्स 1.4 फीसदी तक टूटा है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 1.5 फीसदी तक गिर गया है।

ऑटो, रियल्टी, एफएमसीजी और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स शेयरों में सबसे ज्यादा बिकवाली हावी है। निफ्टी के ऑटो इंडेक्स में 3.1 फीसदी और एफएमसीजी इंडेक्स में 1.5 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। बीएसई के रियल्टी इंडेक्स में 2.3 फीसदी और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स इंडेक्स में 1.2 फीसदी की कमजोरी आई है। बैंक निफ्टी 0.25 फीसदी गिरकर 19700 के नीचे फिसल गया है। हालांकि पीएसयू बैंकों में खरीदारी दिख रही है। निफ्टी का पीएसयू बैंक इंडेक्स 2 फीसदी तक उछला है।

बाजार में कारोबार के इस दौरान दिग्गज शेयरों में टाटा मोटर्स, टाटा मोटर्स डीवीआर, एशियन पेंट्स, एचडीएफसी, जी एंटरटेनमेंट, मारुति सुजुकी और सिप्ला 5.5-2.9 फीसदी तक गिरे हैं। हालांकि दिग्गज शेयरों में बैंक ऑफ बड़ौदा, ओएनजीसी, अंबुजा सीमेंट, एसबीआई, अरविंदो फार्मा, कोल इंडिया, डॉ रेड्डीज और सन फार्मा 5.1-0.8 फीसदी तक मजबूत हुए हैं। मिडकैप शेयरों में श्रीराम सिटी, बजाज फिनसर्व, बजाज फाइनेंस, डिवीज लैब्स और बर्जर पेंट्स सबसे ज्यादा 8-5.1 फीसदी तक टूटे हैं। स्मॉलकैप शेयरों में मणप्पुरम फाइनेंस, मुथूट फाइनेंस, अक्ष ऑप्टिफायबर, जेके लक्ष्मी सीमेंट और दीप इंडस्ट्रीज सबसे ज्यादा 13.9-8.7 फीसदी तक लुढ़के हैं।

वीडियोः जानिए सरकारें क्यों लेती हैं विमुद्रीकरम का फैसला-

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 15, 2016 10:03 am

  1. No Comments.

सबरंग