ताज़ा खबर
 

बाजार में गिरावट थमी, सेंसेक्स 85 अंक सुधरा

सेंसेक्स मजबूती के साथ 27,805.94 अंक पर खुला लेकिन बाद में कारोबार के दौरान मुनाफावसूली दबाव में टूटकर 27,697.33 अंक तक गिर गया।
Author मुंबई | August 11, 2016 18:16 pm
शेयर बाजार (फाइल फोटो)

बाजार में दो दिन से जारी गिरावट गुरुवार (11 अगस्त) थम गई और बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज (गुरुवार, 11 अगस्त) करीब 85 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। वैश्विक स्तर पर मिले-जुले रुख के बीच प्रमुख कंपनियों के शेयरों में लिवाली के जोर पकड़ने से यह तेजी आई। सेंसेक्स में बुधवार (10 अगस्त) सात सप्ताह में एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई थी। उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों, तेल एवं गैस, बिजली ढांचागत सुविधा, आईटी तथा स्वास्थ्य क्षेत्रों में लिवाली देखी गई जबकि जमीन जायदाद के विकास से जुड़ी कंपनियों, धातु, वाहन एवं बैंकिंग शेयरों में बिकवाली दबाव रहा।

सेंसेक्स मजबूती के साथ 27,805.94 अंक पर खुला लेकिन बाद में कारोबार के दौरान मुनाफावसूली दबाव में टूटकर 27,697.33 अंक तक गिर गया। कारोबार के आखिरी घंटे में ताबड़तोड़ लिवाली से यह एक समय 27,902.39 अंक तक चढ़ गया। लेकिन अंत में 84.72 अंक या 0.31 प्रतिशत बढ़कर 27,859.60 पर बंद हुआ। भारी मुनाफावसूली के कारण तीस शेयरों वाला सेंसेक्स बुधवार (10 अगस्त) को 310 अंक लुढ़ककर 28,000 अंक के नीचे बंद हुआ था। सात सप्ताह में एक दिन में यह सबसे बड़ी गिरावट थी। सेंसेक्स में पिछले दो सत्रों में करीब 408 अंक की गिरावट दर्ज की गई।

पचास शेयरों वाला एनएसई निफ्टी 16.85 अंक या 0.20 प्रतिशत की तेजी के साथ 8,592.15 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 8,540.05 से 8,601.15 अंक के दायरे में रहा। जियोजित बीएनपी परिबा फाइनेंशियल सर्विसेज लि. के मुख्य बाजार रणनीतिकार आनंद जेम्स ने कहा, ‘बाजार में किसी मजबूत संकेत का अभाव रहा। दो दिन की गिरावट के बाद शेयरों का भाव कम होने से लिवाली बढ़ी। लेकिन खरीदार लंबे सप्ताहांत को देखते हुये सौदों को हल्का रख रहे हैं।’

लाभ में रहने वाले शेयरों में ल्यूपिन, आईटीसी लि., एशियन पेंट, आईसीआईसीआई बैंक, टीसीएस, एनटीपीसी, हिंदुस्तान यूनीलिवर, ओएनजीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी लि., एक्सिस बैंक तथा डा. रेड्डी शामिल हैं। जिन शेयरों में गिरावट रही, उसमें एसबीआई सबसे ऊपर है। बैंक का शेयर 1.97 प्रतिशत कमजोर होकर 226.95 रुपए पर आ गया। निवेशक पहली तिमाही के नतीजे से पहले सतर्क रुख अपना रहे हैं। अडाणी पोर्ट, महिंद्रा एंड महिंद्रा, गेल, सन फार्मा, बजाज ऑटो, टाटा स्टील, एल एंड टी, टाटा मोटर्स, हीरो मोटो कॉर्प, पावर ग्रिड तथा इंफोसिस में भी गिरावट रही।

बैंक आफ बड़ौदा का शेयर 8.95 प्रतिशत नीचे आ गया। कंपनी के एकल आधार पर शुद्ध लाभ जून 2016 को समाप्त तिमाही में 60 प्रतिशत लुढ़कने की खबर से शेयर में गिरावट आई। वैश्विक स्तर पर अत्यधिक आपूर्ति के संकेत से कच्चे तेल के दाम में नरमी के कारण एशिया के अन्य बाजारों में मिला-जुला रुख रहा। हांगकांग के बाजार में 0.43 प्रतिशत की तेजी आई जबकि शंघाई कंपोजिट सूचकांक 0.53 प्रतिशत नीचे आया। जापानी वित्तीय बाजार राष्ट्रीय अवकाश के कारण बंद रहा। यूरोपीय बाजारों में शुरूआती कारोबार में मिला-जुला रुख रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.